आए है शरण श्याम सांवरे भजन लिरिक्स

आए है शरण श्याम सांवरे भजन लिरिक्स

आए है शरण श्याम सांवरे,
श्याम सांवरे, श्याम सांवरे,
श्याम सांवरे, श्याम सांवरे,
आए है शरण श्याम सांवरे।।



नैया मेरी मजधार में डोले,

जीवन नैया खाए हिचकोले,
पार लगाओ ऐ साँवरिया,
तेरे दर पर मैं तो आन पड़ी,
जग की ठोकर खा खा कर,
ऐ श्याम मैं अब तो हार चुकी,
आए हैं शरण श्याम साँवरे,
श्याम सांवरे, श्याम सांवरे,
श्याम सांवरे, श्याम सांवरे,
आए है शरण श्याम साँवरे।।



ना पूजा ना पाठ मैं जानू,

सब कुछ श्याम मैं तुमको मानु,
तेरी सूरत इतनी प्यारी है,
मैं इस पर बलि बलि जाऊं,
ऐ श्याम सलोने साँवरिया
तुझे छोड़ मैं किस दर जाऊं,
आए हैं शरण श्याम साँवरे,
श्याम सांवरे, श्याम सांवरे,
श्याम सांवरे, श्याम सांवरे,
आए है शरण श्याम साँवरे।।



हारे के सहारे श्याम तुम चले आओ,

हारे हुओ की आके लाज बचाओ,
आ जाओ मेरे ऐ साँवरिया,
तू हारे का सहारा है,
मैं भी तो अब हार गई,
फिर मुझको क्यो ठुकराया है
आए हैं शरण श्याम साँवरे,
श्याम सांवरे, श्याम सांवरे,
श्याम सांवरे, श्याम सांवरे,
आए है शरण श्याम साँवरे।।



आए है शरण श्याम सांवरे,

श्याम सांवरे, श्याम सांवरे,
श्याम सांवरे, श्याम सांवरे,
आए है शरण श्याम सांवरे।।

स्वर – किशोरी दासी।


१ टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें