आ जाओ अब कन्हैया मेरा दिल उदास है भजन लिरिक्स

आ जाओ अब कन्हैया,
मेरा दिल उदास है।

दोहा – दया क्या ये कम है,
ओ घनश्याम प्यारे,
जो चरणों में तेरे,
ठिकाना मिला है।
बड़े भाग्यशाली है,
वो तेरे बन्दे,
जिन्हे आपसे दिल,
लगाना मिला है।
मुरारी मैं रहमत,
के सदके तुम्हारी,
जो चरणों में सर को,
झुकना मिला है।
मुरादों से झोली,
को भर देने वाले,
इशारों से किस्मत,
बदल देने वाले,
तू है मेरा दाता,
मैं तेरा भिखारी,
तू है मेरा ठाकुर,
मैं तेरा पुजारी।



आ जाओ अब कन्हैया,

मेरा दिल उदास है,
मेरा दिल उदास है,
तेरे आस पास है,
आ जाओं अब कन्हैया,
मेरा दिल उदास है।bd।

देखे – आओ करीब आओ।



ये गव्वे और ग्वालें,

मेरे काम के नहीं है,
ये गव्वे और ग्वालें,
मेरे काम के नहीं है,
आकर मुरली बजा जा,
मेरा दिल उदास है,
आ जाओं अब कन्हैया,
मेरा दिल उदास है।bd।



ये पनघट और सखियाँ,

मेरे काम के नहीं है,
ये पनघट और सखियाँ,
मेरे काम के नहीं है,
आकर रास रचा जा,
मेरा दिल उदास है,
आ जाओं अब कन्हैया,
मेरा दिल उदास है।bd।



ये माखन और मिश्री,

मेरे काम के नहीं है,
ये माखन और मिश्री,
मेरे काम के नहीं है,
आकर दरश दिखा जा,
Bhajan Diary Lyrics,
मेरा दिल उदास है,
आ जाओं अब कन्हैया,
मेरा दिल उदास है।bd।



आ जाओ अब कन्हैया,

मेरा दिल उदास है,
मेरा दिल उदास है,
तेरे आस पास है,
आ जाओं अब कन्हैया,
मेरा दिल उदास है।bd।

गोपाल मुरलिया वाले,
नन्दलाल मुरलिया वाले।

गायक – राजेंद्र कोदे।


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें