ये उत्सव बजरंग बाले का वाह रे बजरंगी क्या कहना

ये उत्सव बजरंग बाले का,
ये लाल लंगोटे वाले का,
वाह रे बजरंगी क्या कहना,
ऐ राम भक्त तेरा क्या कहना।।

तर्ज – ये देश है वीर जवानों का।



वो लांघ समुन्दर पार गया,

रावण की लंका जार गया,
लंका को जलाना क्या कहना,
रावण को डराना क्या कहना।।



संजीवन बूटी लाने को,

लक्ष्मण के प्राण बचाने को,
पर्वत को उठाना क्या कहना,
लक्ष्मण को जिलाना क्या कहना।।



श्री राम प्रभु को प्यारा है,

अहिरावण को जा मारा है,
ये राम दीवाना क्या कहना,
कहता है जमाना क्या कहना।।



ये उत्सव बजरंग बाले का,

ये लाल लंगोटे वाले का,
वाह रे बजरंगी क्या कहना,
ऐ राम भक्त तेरा क्या कहना।।

स्वर – उमा लहरी जी।


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

श्याम तेरे चरणों में मिला है मुझे सारा ज़माना भजन लिरिक्स

श्याम तेरे चरणों में मिला है मुझे सारा ज़माना भजन लिरिक्स

श्याम तेरे चरणों में, मिला है मुझे सारा ज़माना, दुनिया कुछ भी कहे, श्याम मैं तो तेरा दीवाना, तेरा नाम लिया तुझे याद किया, तेरे चरणों में हमने सब वार…

ये बाबा तो साथी हमारा है हारे का सहारा है भजन लिरिक्स

ये बाबा तो साथी हमारा है हारे का सहारा है भजन लिरिक्स

ये बाबा तो साथी हमारा है, हारे का सहारा है। कैसे दूर मैं रह पाऊँगा, दौड़ा दौड़ा दर आऊँगा, तेरे दर्शन करके बाबा, किस्मत को चमकाऊँगा, यें बाबा तो साथी…

मेरे बांके बिहारी मेरे सांवरे भजन लिरिक्स

मेरे बांके बिहारी मेरे सांवरे भजन लिरिक्स

मेरे बांके बिहारी मेरे सांवरे, तुने इतनी कृपा मुझपे की सांवरे, तुने इतनी कृपा मुझपे की सांवरे, तुने इतना दिया है मेरे सांवरे, मेरी झोली भरी है मेरे सांवरे, मेरे…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे