ये करुणा क्यों करी जरा इतना बता दो हरि लिरिक्स

ये करुणा क्यों करी,
जरा इतना बता दो हरि।bd।
ye karuna kyo kari lyrics



कौन सी बात पे राजी भए तुम,

कौन सी बात पे राजी भए तुम,
उर गृह कंठ धरी,
ये करुणा क्यो करी,
जरा इतना बता दो हरि।bd।



नहीं कोई लक्षण साधु संत के,

नहीं कोई लक्षण साधु संत के,
फिर क्यो मांग भरी,
ये करुणा क्यो करी,
जरा इतना बता दो हरि।bd।



अवगुण अनेके गुण नहीं ऐके,

अवगुण अनेके गुण नहीं ऐके,
फिर क्यों चित्त धरी,
Bhajan Diary Lyrics,
ये करुणा क्यो करी,
जरा इतना बता दो हरि।bd।



कुछ नहीं मांगू सबकुछ पाई,

कुछ नहीं मांगू सबकुछ पाई,
तूल जा काहे वरी,
ये करुणा क्यो करी,
जरा इतना बता दो हरि।bd।



ये करुणा क्यों करी,

जरा इतना बता दो हरि।bd।

स्वर – श्री चित्र विचित्र जी महाराज।


१ टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें