यार मेरे मेरे मरने से पहले भर के चिलम पीला देना लिरिक्स

यार मेरे मेरे मरने से पहले,
भर के चिलम पीला देना॥
पी के सीधा स्वर्ग मे पहुंचूं,
ऐसी दम लगवा देना॥॥



एक गाँजा लाया, उसे पानी मे भिगाया,

उँगली से यूँ मसला, गुद से यूँ रगड़ा,
तम्बाकू मंगवाई, गाँजे मे मीलवायी,
फ़िर चिलम उठाई, की उसकी सफाई,
फ़िर कंकड़ अंदर डाल के, मस्ती ऐसी आई,
लगी जोफूँक ऐसीबड़ी मेहनत से चिलम बनाई,
और चिलम बनाते हुये, खुदा की याद आयी,
पी के सीधा स्वर्ग मे पहुंचूं,
ऐसी दम लगवा देना॥॥



अल्हड़ मस्त जवां और कोमल,

कोरी अछूती मस्तानी,
चुन चुन कर कलियाँ बागो से,
गांजे की मंगवा देना,
पी के सीधा स्वर्ग मे पहुंचूं,
ऐसी दम लगवा देना॥॥



अस्थि ले जाने से पहले,
इतना ध्यान ज़रा रखना,

कफ़न के बदले चिलम की साफी,
मुँह पे मेरे उड़वा देना,
पी के सीधा स्वर्ग मे पहुंचूं,
ऐसी दम लगवा देना॥॥



घर से लेकर शम्शानो तक,

दौर चिलम का चलता रहे,
धुएँ मे मेरा निकले जनाजा,
ये सबको बतवा देना, 
पी के सीधा स्वर्ग मे पहुंचूं,
ऐसी दम लगवा देना॥॥



मेरे यारो मेरे दोस्तो,

लकड़ी से ना मुझको जलाना,
चुन चुन कर गांजे की डंठल,
से मुझको जलवा देना,
पी के सीधा स्वर्ग मे पहुंचूं,
ऐसी दम लगवा देना॥॥



मेरे बाद मे मेरे धन का,

मेरी जमी का क्या होगा,
चुन चुन तमाम गँजेदियो मे,
यारो मेरे लुट्वा देना,
पी के सीधा स्वर्ग मे पहुंचूं,
ऐसी दम लगवा देना॥॥



यार मेरे मेरे मरने से पहले,

भर के चिलम पीला देना॥
पी के सीधा स्वर्ग मे पहुंचूं,
ऐसी दम लगवा देना॥॥


5 टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें