उड़ उड़ बायरिया मधरो चाल जै रे देशांणे जाय जे

उड़ उड़ बायरिया मधरो चाल जै रे,
देशांणे जाय जे,
कहिजे म्हारी मेहाई ने जाय,
जाय रे कयां भूल गया म्हारी माँ।।



उड़ जा रे सोहन काला कागला रे,

काला कागला,
कहिजे म्हारी करनादे ने जाय,
जाय रे कयां भूल गया म्हारी माँ।।



निजरां आगे राखो काबो बणाय ने,

माँ काबो बणाय ने सा,
राखो श्री चरणा लिपटाय,
लिपटाय सा,
कयां भूल गया म्हारी माँ।।



जन्म जन्म माँ थोरा गुण गावस्या,

ए अम्बा गावस्या,
दीज्यो अम्बा एकर दरसाव,
दरसाव सा,
कयां भूल गया म्हारी माँ।।



उभी तो अडिकु मेहाई कद,

आवसी सा माँ कद आवसी,
पारस री सुणके अरदास,
अरदास सा,
कयां भूल गया म्हारी माँ।।



उड़ उड़ बायरिया मधरो चाल जै रे,

देशांणे जाय जे,
कहिजे म्हारी मेहाई ने जाय,
जाय रे कयां भूल गया म्हारी माँ।।

Singer – Kalyan Singh Palawat
Upload – Manish Sharma
7727082349


पिछला भजनमोहे ना बिसारो हे श्यामा प्यारी लिरिक्स
अगला भजनश्री कृष्ण कृष्णा पुकारा करेंगे भजन लिरिक्स

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें