ओ थारी बोली पे मर जाऊ मारा सावंरिया राजस्थानी भजन

ओ थारी बोली पे मर जाऊ मारा सावंरिया,
ओ थारी बोली पे मर जाऊ मारा गिरधारी,
ओ मोहन थारो मारो प्यार जाणे है दुनिया।।

तर्ज – घूमर।



ओ मुझे मम्मी लडे है मुझे पापा लड़े,

ओ तेरे बिना जिया नही लागे सावंरिया,
ओ थारी बोली पे मर जाऊ मारा सावंरिया।।



ओ मेरे भईया लड़े है मेरी भाभी लड़े,

ओ मेरी बिगड़ी बना दे मेरे सावंरिया,
ओ कान्हा तेरा मेरा प्यार जले है दुनिया,
ओ थारी बोली पे मर जाऊ मारा सावंरिया।।



ओ मेरी सास लड़े मेरा ससुर लड़े,

ओ तेरी भोली सी सूरत पे मेरा दिल रह ग्या,
ओ कान्हा तेरा मेरा प्यार जले है दुनिया,
ओ थारी बोली पे मर जाऊ मारा सावंरिया।।



ओ थारी बोली पे मर जाऊ मारा सावंरिया,

ओ थारी बोली पे मर जाऊ मारा गिरधारी,
ओ मोहन थारो मारो प्यार जाणे है दुनिया।।



ओ थारी बोली पे मर जाऊ मारा सावंरिया,

ओ थारी बोली पे मर जाऊ मारा गिरधारी,
ओ मोहन थारो मारो प्यार जाणे है दुनिया।।

– भजन लेखक एवं प्रेषक –
सिंगर राज मेवाड़ी
मोबाइल नम्बर 9950916269
भीलवाड़ा ( राजस्थान )
Video Not Available.


 

इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

नर गाफल में क्यों सुतो रे ओढ़ भरम रो भाकलीयो

नर गाफल में क्यों सुतो रे ओढ़ भरम रो भाकलीयो

नर गाफल में क्यों सुतो रे, ओढ़ भरम रो भाकलीयो। ईश्वर रा गुण गावत गावत, मालिक रा गुण गावत गावत, एडो काई आयो थाने थाकलीयो, ओड भरम रो भाकलीयो, नर…

राम जी रो राख भरोसो भाई भजन लिरिक्स

राम जी रो राख भरोसो भाई भजन लिरिक्स

राम जी रो राख भरोसो भाई, दोहा – चिंता दीन दयाल को, मो मन बड़ो आनंद, जायो सो प्रतिपालसी, रामदास गोविंद। दादू दुनिया बावळी, सोच करे गैली, सबने राम जी…

आवणो पड़ेला गुरूजी आवणो पड़ेला भजन लिरिक्स

आवणो पड़ेला गुरूजी आवणो पड़ेला भजन लिरिक्स

आवणो पड़ेला गुरूजी, आवणो पड़ेला, आज री सत्संग में थाने, आज री जागरण में थाने, आवणो पङेला।। पहला रे युगा मे गुरु, पहलाद जी आया, पांच करोङ तपस्वी, तारणा पङेला,…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे