थारा खाटू धाम में आंवाला पैदल श्याम म्हे

थारा खाटू धाम में आंवाला पैदल श्याम म्हे

थारा खाटू धाम में आंवाला,
पैदल श्याम म्हे,
थारा खाटु धाम में,
मैं थारा सेवक थे म्हारा स्वामी,
सेवा करा दिन रात म्हे,
थारा खाटु धाम में आंवाला,
पैदल श्याम म्हे,
थारा खाटु धाम में।।



रंग रंगीला निशान म्हे लास्या,

बापर जय श्री श्याम लिखास्या,
मोरछड़ी ले हाथ में,
थारा खाटु धाम में आंवाला,
पैदल श्याम म्हे,
थारा खाटु धाम में।।



जद बाबा म्हे खाटू आस्या,

हंस हंस कर थासु बतलास्या,
बाता करस्यां आप से,
थारा खाटु धाम में आंवाला,
पैदल श्याम म्हे,
थारा खाटु धाम में।।



जद बाबा म्हे खाटू आँवा,

नाचा गावा थाने मनावा,
घुमर घाला श्याम म्हे,
थारा खाटु धाम में आंवाला,
पैदल श्याम म्हे,
थारा खाटु धाम में।।



‘अमित सुमित’ की विनती सुनलयो,

सीर के ऊपर हाथ रखदयो,
हारया ने जीत दिलाओ थे,
थारा खाटु धाम में आंवाला,
पैदल श्याम म्हे,
थारा खाटु धाम में।।



थारा खाटू धाम में आंवाला,

पैदल श्याम म्हे,
थारा खाटु धाम में,
मैं थारा सेवक थे म्हारा स्वामी,
सेवा करा दिन रात म्हे,
थारा खाटु धाम में आंवाला,
पैदल श्याम म्हे,
थारा खाटु धाम में।।

– गायक एवं प्रेषक –
अमित खंडेलवाल सीकर
9928475554


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें