तेरी रहमतो का किस्सा सरे शाम चल रहा है भजन लिरिक्स

तेरी रहमतो का किस्सा,
सरे शाम चल रहा है,
ये तेरा खोटा सिक्का,
ये तेरा खोटा सिक्का,
सरे आम चल रहा है,
तेरी रहमतों का किस्सा,
सरे शाम चल रहा है।।



तेरा नाम ले के सोऊँ,

तेरा नाम ले के जागु,
ये सिलसिला हमारा,
ये सिलसिला हमारा,
सुबहो शाम चल रहा है,
तेरी रहमतों का किस्सा,
सरे शाम चल रहा है।।



मेरी शोहरतों के पीछे,

क्या राज है बता दूँ,
तेरा नाम चल रहा है,
तेरा नाम चल रहा है,
मेरा काम चल रहा है,
तेरी रहमतों का किस्सा,
सरे शाम चल रहा है।।



मुश्किल हो चाहे जैसी,

मुझे कैसे रोक पाए,
ये मेरा खाटू वाला,
ये मेरा खाटू वाला,
मेरे साथ चल रहा हैं,
तेरी रहमतों का किस्सा,
सरे शाम चल रहा है।।



तेरा नाम ले के मैंने,

मंजिल को अपनी पाया,
तेरे करम से बाबा,
तेरे करम से बाबा,
हर दिन गुजर रहा है,
तेरी रहमतों का किस्सा,
सरे शाम चल रहा है।।



तेरी रहमतो का किस्सा,

सरे शाम चल रहा है,
ये तेरा खोटा सिक्का,
ये तेरा खोटा सिक्का,
सरे आम चल रहा है,
तेरी रहमतों का किस्सा,
सरे शाम चल रहा है।।

Singer – Sheetal Pandey Ji


१ टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें