प्रथम पेज कृष्ण भजन बिहारी मैं तो कब से खड़ी तेरी अंखिया हैं जादू भरी

बिहारी मैं तो कब से खड़ी तेरी अंखिया हैं जादू भरी

बिहारी मैं तो कब से खड़ी
तेरी अंखिया हैं जादू भरी,
बिहारी मैं तो कब से खड़ी ।

 

सुनलो मेरे श्याम सलोना,
तुमने ही मुझ पर कर दिया टोना ।
मेरी अंखियां तुम्ही से लड़ी,
बिहारी मैं तो कब से खड़ी ॥


तुम सा ठाकुर और ना पाया,
तुमसे ही मैंने नेह लगाया ।
मैं तो तेरे ही द्वार पड़ी,
बिहारी मैं तो कब से खड़ी ॥


कृपा करो हरिदास के स्वामी,
बांके बिहारी अन्तर्यामी ।
मेरी टूटे ना भजन की लड़ी,
बिहारी मैं तो कब से खड़ी ॥

कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।