तेरे होते श्याम सांवरे डूब रहा कैसे मजधार लिरिक्स

तेरे होते श्याम सांवरे,
डूब रहा कैसे मजधार,
तू ही गर समझेगा पराया,
कौन बनेगा खेवनहार,
तेरे होते श्याम साँवरे,
डूब रहा कैसे मजधार।bd।
tere hote shyam sanware lyrics
तर्ज – कस्मे वादे प्यार वफ़ा।
देखे – नैया है मझधार श्याम इसे।



मेरी मज़बूरी को समझना,

सबके बस की बात नहीं,
किसको सुनाऊँ दर्द मैं अपना,
गैर है सब कोई ख़ास नहीं,
सहते हुए ही तुझको पुकारूँ,
आ जाओ लीले असवार,
तेरे होते श्याम साँवरे,
डूब रहा कैसे मजधार।bd।



मेरी तमन्ना छोटी सी है,

करने की दीदार तेरा,
तेरे बस सबकुछ बाबा,
खुद पर ना अधिकार मेरा,
छोड़ी मैंने तेरे भरोसे,
जो भी बची है सांसे चार,
तेरे होते श्याम साँवरे,
डूब रहा कैसे मजधार।bd।



‘राजू’ रह ले श्याम शरण में,

इससे बड़ी ना है सरकार,
लाखो तर गए इस चौखट से,
तू भी हो जाएगा पार,
फिर तू कहेगा श्याम के रहते,
नहीं डूबा कोई मजधार,
Bhajan Diary Lyrics,
तेरे होते श्याम साँवरे,
डूब रहा कैसे मजधार।bd।



तेरे होते श्याम सांवरे,

डूब रहा कैसे मजधार,
तू ही गर समझेगा पराया,
कौन बनेगा खेवनहार,
तेरे होते श्याम साँवरे,
डूब रहा कैसे मजधार।bd।

Singer / Lyrics – Rajendra Agrawal


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें