तेरे बिन श्याम ना जिया जाये भजन लिरिक्स

तेरे बिन श्याम ना जिया जाये,

मेरी जिंदगी के मालिक श्याम,
मेरे दाता मेरे रहबर श्याम,
मेरी जिंदगी के मालिक,
मेरे दाता मेरे रहबर,
तेरी याद सताती है,
रातों को जगाती है,
तेरे बिन श्याम ना जिया जाये,
जीया जाये,
मेरे दिल को भी अब ना चैन आये।।

तर्ज – बरसात के मौसम में।



सांवरे बिन तेरे ना जीना है,

जहर-ए-जुदाई अब ना पिना है,
मुझे चरणों में तेरे रहना है,
हाले दिल श्याम तुमसे कहना है,
काश ऐसा हो के तु आ जाये,
आ जाय,
मुझे अपने गले लगा जाये,
तेरे बिन श्याम ना जीया जाये,
जीया जाये,
मुझे एक पल भी अब ना चैन आये।।



मुझे बस अब तेरी ही चाहत है,

मेरे दिल की तो तू ही राहत है,
बाबा तू ही मेरी इबादत है,
मुझे तो सिर्फ तेरी आदत है,
श्याम तेरे सिवा ना कुछ भाये,
ना कुछ भाये,
जहाँ देखूं तू ही नजर आये,
तेरे बिन श्याम ना जीया जाये,
जीया जाये,
मुझे एक पल भी अब ना चैन आये।।



है तमन्ना के खाटु में आऊ,

तेरे दर का गुलाम बन जाऊ,
दामन-ए-श्याम में मैं छुप जाऊ,
मैं किसी को भी नजर ना आऊ,
मुझे उस पल ही मौत आ जाये,
आ जाये,
मेरी रूह श्याम में समा जाये,
तेरे बिन श्याम ना जीया जाये,
जीया जाये,
मुझे एक पल भी अब ना चैन आये।।



मेरी जिंदगी के मालिक श्याम,

मेरे दाता मेरे रहबर श्याम,
मेरी जिंदगी के मालिक,
मेरे दाता मेरे रहबर,
तेरी याद सताती है,
रातों को जगाती है,
तेरे बिन श्याम ना जिया जाए,
जीया जाये,
मेरे दिल को भी अब ना चैन आये।।

Singer – Badal Batra