श्याम तेरी मेरी तेरी मेरी है ये प्रीत पुरानी भजन लिरिक्स

श्याम तेरी मेरी तेरी मेरी,
है ये प्रीत पुरानी,
तेरी कृपा से सब हो पाया,
बिन पंखों के मैं उड़ पाया,
तेरे दर से पहचान मिली हैं,
ओ शीश के दानी,
श्याम तेंरी मेरी तेंरी मेरी,
है ये प्रीत पुरानी।।

तर्ज – तेरी मेरी कहानी।
( Ranu Mondal )



हारे का सहारा तू है लखदातारी,

तेरी रहमतों पर जाऊं बलिहारी,
बाबा तेरी रहती हर पल,
बड़ी मेहरबानी,
श्याम तेंरी मेरी तेंरी मेरी,
है ये प्रीत पुरानी।।



तेरे एहसानों का मैं करूं शुकराना,

प्रेम का ये बंधन सदा ही निभाना,
चलता तेरे दम पर ही तो,
मेरा दाना पानी,
श्याम तेंरी मेरी तेंरी मेरी,
है ये प्रीत पुरानी।।



तेरी मर्जीयों से है होनी अनहोनी,

सेवा में रहता है दास तेरा ‘टोनी’,
तुमसे टूटे प्रीत कभी ना,
ये कहता ‘चोखानी’,
श्याम तेंरी मेरी तेंरी मेरी,
है ये प्रीत पुरानी।।



श्याम तेरी मेरी तेरी मेरी,

है ये प्रीत पुरानी,
तेरी कृपा से सब हो पाया,
बिन पंखों के मैं उड़ पाया,
तेरे दर से पहचान मिली हैं,
ओ शीश के दानी,
श्याम तेंरी मेरी तेंरी मेरी,
है ये प्रीत पुरानी।।

Singer – Sukhjeet Singh Toni
Lyricist – Pramod Chokhani
Upload By – Sachin Goyal
9896462682


१ टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें