श्री श्याम जपो हर वक़्त वक़्त लख्खा जी भजन लिरिक्स

0
747
श्री श्याम जपो हर वक़्त वक़्त लख्खा जी भजन लिरिक्स

श्री श्याम जपो हर वक़्त वक़्त,
घनश्याम जपो हर वक़्त।।

तर्ज – तू चीज बड़ी है


श्री श्याम जपो हर वक़्त वक़्त,
घनश्याम जपो हर वक़्त,
लो ध्वजा हाथ में थाम थाम,
जाना है खाटु धाम धाम,
श्री श्याम का जपते नाम नाम,
जयकार करो हर भक्त भक्त।

श्री श्याम है जिनका नाम नाम,
आते है सबके काम काम,
उनके चरणों को थाम थाम,
वो कष्ट हरेंगे सख्त सख्त,
श्री श्याम जपो हर वक़्त वक़्त,
घनश्याम जपो हर वक़्त।।

चर्चा है इनकी गली गली गली,
चर्चा है इनकी,
चर्चा है इनकी ये बिगड़ी बनाते है,
प्रेम से बुलाओ श्याम दौड़े आते है,
श्याम श्याम श्याम, श्याम श्याम,
श्री श्याम जपो हर वक़्त वक़्त,
घनश्याम जपो हर वक़्त।।


खाटु वाले है ऐसे दानी,
जपते जिनको जग के प्राणी,
जो करते उनका ध्यान ध्यान,
वो पाते इज्जत मान मान,
मुँह माँगा देते दान दान,
धन दौलत का जो तख़्त तख़्त,
श्री श्याम जपो हर वक़्त वक़्त,
घनश्याम जपो हर वक़्त।

चर्चा है इनकी गली गली गली,
चर्चा है इनकी,
चर्चा है इनकी ये बिगड़ी बनाते है,
प्रेम से बुलाओ श्याम दौड़े आते है,
श्याम श्याम श्याम, श्याम श्याम,
श्री श्याम जपो हर वक़्त वक़्त,
घनश्याम जपो हर वक़्त।।


श्याम के दर से कोई सवाली,
‘शर्मा’ लौटा कभी ना खाली,
तू चल श्री श्याम के द्वार द्वार,
पायेगा उनसे प्यार प्यार,
ये जनम मिले ना बार बार,
तू व्यर्थ गवा ना वक़्त वक़्त,
श्री श्याम जपो हर वक़्त वक़्त,
घनश्याम जपो हर वक़्त।

चर्चा है इनकी गली गली गली,
चर्चा है इनकी,
चर्चा है इनकी ये बिगड़ी बनाते है,
प्रेम से बुलाओ श्याम दौड़े आते है,
श्याम श्याम श्याम, श्याम श्याम,
श्री-श्याम जपो हर वक़्त वक़्त,
घनश्याम जपो हर वक़्त।।


गणिका तारे अजामिल तारा,
जो प्रह्लाद का बना सहारा,
जो जपता है श्री श्याम श्याम,
उसके बन जाये काम काम,
जग में है प्यारा नाम नाम,
‘लख्खा’ को प्यारा लगत लगत,
श्री-श्याम जपो हर वक़्त वक़्त,
घनश्याम जपो हर वक़्त।

चर्चा है इनकी गली गली गली,
चर्चा है इनकी,
चर्चा है इनकी ये बिगड़ी बनाते है,
प्रेम से बुलाओ श्याम दौड़े आते है,
श्याम श्याम श्याम, श्याम श्याम,
श्री श्याम जपो हर वक़्त वक़्त,
घनश्याम जपो हर वक़्त।।