प्रथम पेज शिवजी भजन शिव को वरूँगी ये जिद ठाने गौरा कहना ना माने भजन लिरिक्स

शिव को वरूँगी ये जिद ठाने गौरा कहना ना माने भजन लिरिक्स

शिव को वरूँगी ये जिद ठाने,
गौरा कहना ना माने,
कहना ना माने गौरा,
कहना ना माने,
शिव को वरूंगी ये जिद ठाने,
गौरा कहना ना माने।।

तर्ज – भक्तों को दर्शन दे गई रे।



पिता हिमाचल जी समझा के हारे,

तुमको दिखाऊं कुंवर प्यारे प्यारे,
माता मैना गौरा को समझाए,
वो कहना ना माने,
शिव को वरूंगी ये जिद ठाने,
गौरा कहना ना माने।।



देव ना वरूँगी मैं दानव ना वरूँगी,

और किसी मैं ब्याह न करुँगी,
शिवजी को अपना पति माने,
गौरा कहना ना माने,
शिव को वरूंगी ये जिद ठाने,
गौरा कहना ना माने।।



औघड़ योगी वो है शमशानी,

शिव तेरे लायक नहीं गौरा रानी,
सप्तऋषि आए समझाने,
गौरा कहना ना माने,
शिव को वरूंगी ये जिद ठाने,
गौरा कहना ना माने।।



पिछले जनम की कहानी सुनाई,

नारद ने गौरा को भक्ति सिखाई,
तबसे मनाए शिव गौरा ने,
गौरा कहना ना माने,
शिव को वरूंगी ये जिद ठाने,
गौरा कहना ना माने।।



हिमाचल के द्वारे पे खुशियां है छाई,

शिव की अनोखी है बारात आई,
आए है शिव गौरा ब्याहने,
पाया शिव को गौरा ने,
शिव को वरूंगी ये जिद ठाने,
गौरा कहना ना माने।।



शिव को वरूँगी ये जिद ठाने,

गौरा कहना ना माने,
कहना ना माने गौरा,
कहना ना माने,
शिव को वरूंगी ये जिद ठाने,
गौरा कहना ना माने।।

Singer – Kanishka


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।