शिव का नाम रटे जा पल पल लागे ना कोई मोल रे भजन लिरिक्स

शिव का नाम रटे जा पल पल,
लागे ना कोई मोल रे,
हर हर बम बम बोल रे,
बम बम हर हर बोल रे।।



हर हर बम बम जपने वाले,

शिव को लगते प्यारे,
शिव को लगते प्यारे,
महादेव कैलाशी का तू,
निशदिन ध्यान लगा रे,
निशदिन ध्यान लगा रे,
मन की अंगूठी में तू जड़ ले,
मन की अंगूठी में तू जड़ ले,
ये हिरा अनमोल रे,
हर हर बम बम बोल रे,
बम बम हर हर बोल रे।।



जिसने जो माँगा दे डाला,

ऐसे है शिव दाता,
ऐसे है शिव दाता,
शिव से न कोई भेद छिपा है,
वो त्रिकाल के ज्ञाता,
वो त्रिकाल के ज्ञाता,
सबकी नेकियाँ बदिया रहा वो,
सबकी नेकियाँ बदिया रहा वो,
सच के तराजू तोल रे,
हर हर बम बम बोल रे,
बम बम हर हर बोल रे।।



शिव का नाम रटे जा पल पल,

लागे ना कोई मोल रे,
हर हर बम बम बोल रे,
बम बम हर हर बोल रे।।

स्वर – श्री लखबीर सिंह लख्खा।


इस भजन को शेयर करे:

सम्बंधित भजन भी देखें -

भोले दानी रे भोले दानी शिव जी भजन लिरिक्स

भोले दानी रे भोले दानी शिव जी भजन लिरिक्स

भोले दानी रे भोले दानी, श्लोक दिन और दुखियो के तुम हो सहारे, सदा अपने भक्तो को भोले उबारे, भसम भभूति तन पर राजे, नाग गले में डाले, पिते हो…

आया शिवरात्रि त्यौहार चलो रे शिव वंदन करे

आया शिवरात्रि त्यौहार चलो रे शिव वंदन करे

आया शिवरात्रि त्यौहार, चलो रे शिव वंदन करे, वंदन करे अभिनंदन करे, आया शिवरात्रि त्यौहार, चलो रे शिव वंदन करे।। आज है गौरी शिव जागरण, शिव रात्रि पर्व मनाओ सखी,…

तेरी दया के किस्से दुनिया को मैं सुनाऊ लख्खा जी भजन लिरिक्स

तेरी दया के किस्से दुनिया को मैं सुनाऊ लख्खा जी भजन लिरिक्स

तेरी दया के किस्से, दुनिया को मैं सुनाऊ। श्लोक – सर झुकाओगे अगर, माँ के दरबार के आगे, ना कभी हाथ फैलाना पड़ेगा, किसी साहूकार के आगे। तेरी दया के…

छाई सावन की घटा कांधे पे कांवड़ उठा लख्खा जी भजन लिरिक्स

छाई सावन की घटा कांधे पे कांवड़ उठा लख्खा जी भजन लिरिक्स

छाई सावन की घटा, कांधे पे कांवड़ उठा, ध्यान चरणों में लगा, चल शिव के द्वारे।। तर्ज – जब चली ठंडी हवा शिव बड़े दातार है, जाने क्या से क्या…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे