प्रथम पेज दुर्गा माँ भजन शेरावाली मैया क्यों तरसाओ भजन लिरिक्स

शेरावाली मैया क्यों तरसाओ भजन लिरिक्स

शेरावाली मैया क्यों तरसाओ,
आकर हिये से हे मात लगाओ,
दर्शन खातिर नैना तरसे दरश दिखाओ,
दर्शन खातिर नैना तरसे दरश दिखाओ,
शेरावाली मईया क्यों तरसाओ,
आकर हिये से हे मात लगाओ।।

तर्ज – झिलमिल सितारों का।



लाल लाल चुनरी से माँ थाल सजाएं है,

दर्शन को तेरे मैया आस लगाए है,
आशीष देने को माँ हाथ बढ़ाओ,
आकर हिये से हे मात लगाओ,
शेरावाली मईया क्यों तरसाओ,
आकर हिये से हे मात लगाओ।।



On Bhajan Diary

फूलों का एक हार बनाया,
माँ तुमको पहनाएंगे,
हलवा पूरी का मैया भोग लगाएंगे,
कैसे रिझाऊंगी मात बताओ,
आकर हिये से हे मात लगाओ,
शेरावाली मईया क्यों तरसाओ,
आकर हिये से हे मात लगाओ।।



अर्जी मेरी सुनले मैया गाकर के सुनाए है,

आजा भवानी इतनी देर क्यों लगाए है,
सेवक हम तेरे मैया मत बिसराओ,
आकर हिये से हे मात लगाओ,
शेरावाली मईया क्यों तरसाओ,
आकर हिये से हे मात लगाओ।।



शेरावाली मैया क्यों तरसाओ,

आकर हिये से हे मात लगाओ,
दर्शन खातिर नैना तरसे दरश दिखाओ,
दर्शन खातिर नैना तरसे दरश दिखाओ,
शेरावाली मईया क्यों तरसाओ,
आकर हिये से हे मात लगाओ।।

Singer – Sushree Adrita


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।