शंकर जटाधारी ने पार्वता लागे प्यारी भजन लिरिक्स

शंकर जटाधारी ने पार्वता लागे प्यारी भजन लिरिक्स

शंकर जटाधारी ने,
पार्वता लागे प्यारी,
डम डमा डम डमरू बाजे,
शंकर जटाधारी,
डम डमा डम डमरू बाजे,
शंकर जटाधारी।।



अरे काई जीमे कानजी ने,

काई राधा रानी,
अरे काई जीमे कानजी ने,
काई राधा रानी,
अरे काई रे जीमे रे,
मारो शंकर जटाधारी,
अरे काई रे जीमे रे,
मारो शंकर जटाधारी,
अरे माखन जीमे कानजी ने,
मिसरी राधा रानी,
अरे भांग अरोके मारो,
शंकर जटाधारी,
शँकर जटाधारी ने,
पार्वता लागे प्यारी,
डम डमा डम डमरू बाजे,
शंकर जटाधारी,
डम डमा डम डमरू बाजे,
शंकर जटाधारी।।



कठे रेवे कानजी ने,

कठे राधा रानी,
अरे कठे रेवे कानजी ने,
कठे राधा रानी,
अरे कठे रे रेवे रे मारो,
शंकर जटाधारी,
शँकर जटाधारी ने,
पार्वता लागे प्यारी,
डम डमा डम डमरू बाजे,
शंकर जटाधारी,
डम डमा डम डमरू बाजे,
शंकर जटाधारी।।



अरे गोकुल रेवे कानजी,

ब्रजासन राधा रानी,
अरे गोकुल रेवे कानजी,
ब्रजासन राधा रानी,
अरे पहाडों मे रेवे रे,
मारो शंकर जटाधारी,
शँकर जटाधारी ने,
पार्वता लागे प्यारी,
डम डमा डम डमरू बाजे,
शंकर जटाधारी,
डम डमा डम डमरू बाजे,
शंकर जटाधारी।।



अरे काई पेरे कानजी ने,

काई राधा रानी,
अरे काई पेरे कानजी ने,
काई राधा रानी,
अरे काई रे पेरे रे मारो,
शंकर जटाधारी,
शँकर जटाधारी ने,
पार्वता लागे प्यारी,
डम डमा डम डमरू बाजे,
शंकर जटाधारी,
डम डमा डम डमरू बाजे,
शंकर जटाधारी।।



अरे बागो पेरे कानजी ने,

साडी़ राधा रानी,
अरे बागम्बर पेरे रे मारो,
शंकर जटाधारी,
शँकर जटाधारी ने,
पार्वता लागे प्यारी,
डम डमा डम डमरू बाजे,
शंकर जटाधारी,
डम डमा डम डमरू बाजे,
शंकर जटाधारी।।



शंकर जटाधारी ने,

पार्वता लागे प्यारी,
डम डमा डम डमरू बाजे,
शंकर जटाधारी,
डम डमा डम डमरू बाजे,
शंकर जटाधारी।।

गायक – हेमराज जी गोयल।
प्रेषक – मनीष सीरवी
9640557818


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें