सांवरा देखता होगा भलाई कर भला होगा लिरिक्स

भलाई कर भला होगा,
बुराई कर बुरा होगा,
कोई देखे या ना देखे,
सांवरा देखता होगा,
भलाई कर भला होगा,
बुराई कर बुरा होगा।।



किसी का भी भला करके,

नफ़ा नुकसान मत गिनना,
मदद करके गरीबों की कभी,
अभिमान मत करना,
ये दुनिया चार दिन की है,
फिर उसके बाद क्या होगा,
भलाई कर भला होगा,
बुराई कर बुरा होगा।।



ज़माना व्यस्त है देखो,

दुसरो की बुराई में,
नज़र आता नहीं की छेद है,
खुद की सुराही में,
तुझे खुद के गिरेबाँ में ही पहले,
झांकना होगा,
भलाई कर भला होगा,
बुराई कर बुरा होगा।।



अहम के आईने ‘माधव’,

जल्द ही टूट जाते है,
मगर उस वक़्त के पीछे,
बहुत कुछ छुट जाते है,
संभल जा वक़्त के रहते,
बाद में वक़्त ना होगा,
भलाई कर भला होगा,
बुराई कर बुरा होगा।।



भलाई कर भला होगा,

बुराई कर बुरा होगा,
कोई देखे या ना देखे,
सांवरा देखता होगा,
भलाई कर भला होगा,
बुराई कर बुरा होगा।।

Singer – Reshmi Ji Sharma


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें