सांवरे क्यों मुझसे खफा हो गया भजन लिरिक्स

सांवरे क्यों मुझसे खफा हो गया भजन लिरिक्स

सांवरे क्यों मुझसे खफा हो गया,
बता दे भला क्या गुनाह हो गया।।

तर्ज – मेरे दोस्त किस्सा ये क्या।



भटक गया हूँ बाबा मंज़िल मेरी,

इक बार फिरा दे सर पे मोरछड़ी,
अँधेरा ये जीवन घना हो गया,
बता दे भला क्या गुनाह हो गया,
साँवरे क्यों मुझसे खफा हो गया,
बता दे भला क्या गुनाह हो गया।।



है तुमको कसम बाबा छोड़ो ना हाथ,

कहाँ जाएंगे तुमने दिया जो ना साथ,
बाबा ये ‘राज’ अब तेरा हो गया,
बता दे भला क्या गुनाह हो गया,
साँवरे क्यों मुझसे खफा हो गया,
बता दे भला क्या गुनाह हो गया।।



सांवरे क्यों मुझसे खफा हो गया,

बता दे भला क्या गुनाह हो गया।।

Singer & Lyrics – Raj Pareek Ji


१ टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें