प्रथम पेज उमा लहरी भजन छोड़े ना ये मुश्किल में थामे रहता हाथ मेरा लिरिक्स

छोड़े ना ये मुश्किल में थामे रहता हाथ मेरा लिरिक्स

छोड़े ना ये मुश्किल में,
थामे रहता हाथ मेरा,
पीछे पीछे चलता हूँ मैं,
आगे आगे श्याम मेरा,
छोंड़े ना ये मुश्किल में,
थामे रहता हाथ मेरा।।

तर्ज – तेरे जैसा यार कहाँ।



जिस दिन से तू मिला है,

गुलशन मेरा खिला है,
पहले तो कभी कभी था,
अब तो ये सिलसिला है,
सोचूं जो भी चुटकियो में,
बनता है काम मेरा,
पीछे पीछे चलता हूँ मैं,
आगे आगे श्याम मेरा,
छोंड़े ना ये मुश्किल में,
थामे रहता हाथ मेरा।।



भूलूंगा मैं कभी ना,

मेरे रंजो गम मिटा के,
बैठा दिया फलक पे,
मुझे गोद में उठा के,
चलता ही जाऊं जिधर,
जैसा फरमान तेरा,
पीछे पीछे चलता हूँ मैं,
आगे आगे श्याम मेरा,
छोंड़े ना ये मुश्किल में,
थामे रहता हाथ मेरा।।



ऐ साँवरे बिहारी,

तुझे रोज ही मनाए,
गुणगान तेरा ना हो,
वो दिन कभी ना आए,
‘लहरी’ मेरी आरजू तू,
तू ही अरमान मेरा,
पीछे पीछे चलता हूँ मैं,
आगे आगे श्याम मेरा,
छोंड़े ना ये मुश्किल में,
थामे रहता हाथ मेरा।।



छोड़े ना ये मुश्किल में,

थामे रहता हाथ मेरा,
पीछे पीछे चलता हूँ मैं,
आगे आगे श्याम मेरा,
छोंड़े ना ये मुश्किल में,
थामे रहता हाथ मेरा।।

स्वर – उमा लहरी जी।


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।