सांवरे का स्वागत सत्कार करो रे भजन लिरिक्स

बड़े भाग्य से आई घड़ी,
मन नाचता छम छम,
छम छम छम,
सांवरे का स्वागत,
सत्कार करो रे,
भाव से भजनो से,
मनुहार करो रे।।

तर्ज – पालकी मैं होके सवार चली।



हाथों से अपने घर को संवारा,

गंगा के जल से आँगन बुहारा,
चौखट पर लगाए बंधनवार,
बंधनवार बंधनवार,
लूण राई मिलके एक बार करो रे,
भाव से भजनो से,
मनुहार करो रे,
साँवरे का स्वागत,
सत्कार करो रे,
भाव से भजनो से,
मनुहार करो रे।।



भक्तों के संग में उत्सव मनाया,

प्रेमीजनों को हमने बुलाया,
रहना जाए कोई कसर,
कोई कसर हाँ कोई कसर,
मंगल घड़ी में मंगलाचार करो रे,
भाव से भजनो से,
मनुहार करो रे,
साँवरे का स्वागत,
सत्कार करो रे,
भाव से भजनो से,
मनुहार करो रे।।



अच्छे करम कुछ है काम आए,

दुनिया के मालिक घर मेरे आए,
श्याम ने सुन ली मेरी पुकार,
मेरी पुकार हो मेरी पुकार,
सांवरे का ‘मोहित’ आभार करो रे,
Bhajan Diary Lyrics,
भाव से भजनो से,
मनुहार करो रे,
साँवरे का स्वागत,
सत्कार करो रे,
भाव से भजनो से,
मनुहार करो रे।।



बड़े भाग्य से आई घड़ी,

मन नाचता छम छम,
छम छम छम,
सांवरे का स्वागत,
सत्कार करो रे,
भाव से भजनो से,
मनुहार करो रे।।

स्वर – अंजलि जी द्विवेदी।