सांची कहूं तेरी पूजा से बाबा भजन लिरिक्स

सांची कहूं तेरी पूजा से बाबा,
जीवन में मेरे बहार आई,
ओ बाबा जीवन में मेरे बहार आई,
सबकुछ मिल गया,
चमन मेरा खिल गया,
घर मेरे रोनक हजार आई,
सांची कहूं तेरी पुजा से बाबा,
जीवन में मेरे बहार आई।।

तर्ज – सांची कहे तोरे आवन से हमरे।



पढ़ लिख के मैं तो,

डोलूं था खाली,
घर वालो की मैं तो,
खावे था खाली,
सर्विस दिला दी,
चिंता हटा दी,
आँगन में खुशियां अपार आई,
सांची कहूं तेरी पुजा से बाबा,
जीवन में मेरे बहार आई।।



तेरी दया ये बगिया खिली है,

चरणों में तेरे ही जन्नत मिली है,
ऊंचा है दवारा स्वर्ग सा नजारा,
मंदिर में भक्तो की कतार पाई,
सांची कहूं तेरी पुजा से बाबा,
जीवन में मेरे बहार आई।।



शीश के दानी को शीश झुकाते,

मन की मुरादे वो सारी ही पाते,
सभी मनाते गुण तेरे गाते,
करती ये दुनिया पुकार आई,
सांची कहूं तेरी पुजा से बाबा,
जीवन में मेरे बहार आई।।



जगराते में मेरे श्याम तू आना,

भक्तो को आकर के दर्श दिखाना,
ये सबने माना ये गाना बजाना,
करने को टोली प्रचार आई,
सांची कहूं तेरी पुजा से बाबा,
जीवन में मेरे बहार आई।।



सांची कहूं तेरी पूजा से बाबा,

जीवन में मेरे बहार आई,
ओ बाबा जीवन में मेरे बहार आई,
सबकुछ मिल गया,
चमन मेरा खिल गया,
घर मेरे रोनक हजार आई,
सांची कहूं तेरी पुजा से बाबा,
जीवन में मेरे बहार आई।।

Singer : Keshav Govind


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें