रंगो की बरसे फूहरिया चलो खाटू नगरिया भजन लिरिक्स

रंगो की बरसे फूहरिया,
चलो खाटू नगरिया,
खाटू नगरिया चलो खाटू नगरिया,
रंगो की बरसे फुहरीया,
चलो खाटू नगरिया।।

तर्ज – सावन की बरसे बदरिया।



रंग बिरंगी ध्वजा उठाके,

सांवरिया का ध्यान लगाके,
मिलने की इनकी डगरिया,
चलो खाटू नगरिया,
रंगो की बरसे फुहरीया,
चलो खाटू नगरिया।।



जिसने भी दिल से श्याम जपा है,

श्याम भी उसके साथ चला है,
रखता है हर पल खबरिया,
चलो खाटू नगरिया,
रंगो की बरसे फुहरीया,
चलो खाटू नगरिया।।



श्याम मिलन की बेला आई,

इनमे सारे लोग लुगाई,
नाचे जा इनकी दुअरिया,
चलो खाटू नगरिया,
रंगो की बरसे फुहरीया,
चलो खाटू नगरिया।।



जो जिस मन से द्वारे जाता,

वो मन चाहा ही वर पाता,
‘यश’ का श्याम सांवरिया,
चलो खाटू नगरिया,
रंगो की बरसे फुहरीया,
चलो खाटू नगरिया।।



रंगो की बरसे फूहरिया,

चलो खाटू नगरिया,
खाटू नगरिया चलो खाटू नगरिया,
रंगो की बरसे फुहरीया,
चलो खाटू नगरिया।।

Singer – Mahendra Maheshwari


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें