राम का दीवाना बनना सब के बस की बात नही है लिरिक्स

राम का दीवाना बनना सब के बस की बात नही है लिरिक्स

राम का दीवाना बनना,
सब के बस की बात नही है,
कृष्णा नाम का रस पी लेना,
सब के बस की बात नही है,
राम का दिवाना बनना,
सब के बस की बात नही है।।



भक्त प्रहलाद की भक्ति देखो,

मौत खड़ी है पग पग पे,
बालापन में प्रभु को पाना,
सब के बस की बात नही है,
राम का दिवाना बनना,
सब के बस की बात नही है।।



भक्त सुदामा जी को देखो,

जीवन में नादारी है,
पैदल चलकर द्वारिका जाना,
सबके बस की बात नही है,
राम का दिवाना बनना,
सब के बस की बात नही है।।



लंका जाए वैध को लाए,

लक्ष्मण जी की नब्ज दिखाए,
द्रोणागिरी से बूटी लाना,
सबके बस की बात नही है,
राम का दिवाना बनना,
सब के बस की बात नही है।।



राम का दीवाना बनना,

सब के बस की बात नही है,
कृष्णा नाम का रस पी लेना,
सब के बस की बात नही है,
राम का दिवाना बनना,
सब के बस की बात नही है।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें