पेली हाथ जोड़ रामा सामा करता था जमाना बदल गया

पेली हाथ जोड़ रामा सामा करता था,
पेंली हाथ जोड़ रामा सामा करता था,
अबे पढीयोडा कर है टाटा बाय,
जमाना बदल गया।।



अरे पेली चांदी वाला रूपीया चलता था,

अरे पेली चांदी वाला रूपीया चलता था,
अमे चाले रे कगज वाला नोट,
जमाना बदल गया,
अमे चाले कागज वाला नोट,
जमाना बदल गया,
पेंली हाथ जोड़ रामा सामा करता था।।



पेली मोटी मोटी मूछीयो राखता था,

पेली लाम्बी लाम्बी मूछीयो राखता था,
अमे बिन मूछ्या फिरे गलीयो रे माय,
जमाना बदल गया,
अमे बिन मूछ्या फिरे रे गलीयो रे माय,
जमाना बदल गया,
पेंली हाथ जोड़ रामा सामा करता था।।



पेली बाजरी रो खिचडो खावता था,

अरे पेली बाजरी रो खिचडो खावता था,
अमे लुगायो खावे पान सेब,
जमाना बदल गया,
अमे लुगायो खावे है पान सेब,
जमाना बदल गया,
पेंली हाथ जोड़ रामा सामा करता था।।



पेली नर नारी झूठ नहीं बोलता था,

पेली नर नारी झूठ नही बोलता था,
अमे लाम्बा लाम्बा बंडल हिरकाई,
जमाना बदल गया,
अरे लाम्बा लाम्बा बंडल हिरकाई,
जमाना बदल गया,
पेंली हाथ जोड़ रामा सामा करता था।।



अरे दुनिया बदले तो आगी बलवा दो,

अरे दुनिया बदले तो आगी बलवा दो,
ओतो भगत मंडल जश गाय,
जमाना बदल ओतो भगत मंडल जश गाय,
जमाना बदल गया,
पेंली हाथ जोड़ रामा सामा करता था।।



पेली हाथ जोड़ रामा सामा करता था,

पेंली हाथ जोड़ रामा सामा करता था,
अबे पढीयोडा कर है टाटा बाय,
जमाना बदल गया।।

गायक – भेराराम भूराराम सेणचा सीरवी।
प्रेषक – मनीष सीरवी
9640557818


इस भजन को शेयर करे:

सम्बंधित भजन भी देखें -

मेरी सुरता सुहागण नार पिये ने किया भूल गई लिरिक्स

मेरी सुरता सुहागण नार पिये ने किया भूल गई लिरिक्स

मेरी सुरता सुहागण नार, पिये ने किया भूल गई। दोहा – निवण बड़ी संसार में, ओर नहीं निवे सो नीच, निवे नदी रो गुदलो, रेव नदी के बीच। अरे निवे…

ऋतु आया बोले मोरा रे श्याम बिना जीव कोरा रे लिरिक्स

ऋतु आया बोले मोरा रे श्याम बिना जीव कोरा रे लिरिक्स

ऋतु आया बोले मोरा रे, श्याम बिना जीव कोरा रे, अरे ऋतु आया बोलें मोरा रे, म्हारे श्याम बिना जीव कोरा रे, अरे श्याम बिना जीव कोरा रे, हरि बिना…

फूलों सा म्हारा प्यारा बालाजी थाने दुनिया मनावे जी

फूलों सा म्हारा प्यारा बालाजी थाने दुनिया मनावे जी

फूलों सा म्हारा प्यारा बालाजी, थाने दुनिया मनावे जी, थारा ही गुण गावे बालाजी, थाने रोज मनावे जी, फूलो सा म्हारा प्यारा बालाजी हो।। सालासर थारो मन्दिर प्यारो, मेहंदीपुर मन…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

1 thought on “पेली हाथ जोड़ रामा सामा करता था जमाना बदल गया”

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे