प्रथम पेज गणेश भजन ओ गणराज मेरे आया हूँ द्वार तेरे भजन लिरिक्स

ओ गणराज मेरे आया हूँ द्वार तेरे भजन लिरिक्स

ओ गणराज मेरे,
आया हूँ द्वार तेरे,
ओ गणराज मेरें,
आया हूँ द्वार तेरे।।

तर्ज – नीले गगन के तले।



जिसने तेरे नाम को सुमरा,

जिसने तेरे नाम को सुमरा,
उसके काज सरे,
ओ गणराज मेरें,
आया हूँ द्वार तेरे।।



बिच भंवर में नाव है मेरी,

बिच भंवर में नाव है मेरी,
तू ही तो पार करे,
ओ गणराज मेरें,
आया हूँ द्वार तेरे।।



भोले का डमरू डम डम बोले,

भोले का डमरू डम डम बोले,
तांडव नृत्य करे,
ओ गणराज मेरें,
आया हूँ द्वार तेरे।।



ओ गणराज मेरे,

आया हूँ द्वार तेरे,
ओ गणराज मेरें,
आया हूँ द्वार तेरे।।

प्रेषक – अविनाश मौर्य।
9009394004


१ टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।