प्रथम पेज विविध भजन नानी बाई की सासु ननंद बात न कर लिरिक्स

नानी बाई की सासु ननंद बात न कर लिरिक्स

नानी बाई की सासु ननंद,
बात न कर,
देखा भला मायरो वो को,
कुण रे भर।।



नई रे नानी बाई का,

काका न बाबा,
काका न बाबा भैय्या,
काका न बाबा,
बाप वो को साधु न,
की संगत कर,
देखा भला मायरो वो को,
कुण रे भर।।



नई रे नानी बाई की,

माय न मावसी,
माय न मावसी बईण,
माय न मावसी,
भाई बिना मायरो,
वो को कुण रे भर,
देखा भला मायरो वो को,
कुण रे भर।।



द्वारकापुरी सी भाई,

वो को आयो,
छप्पन करोड़ को,
मायरो पुरायो,
नगर अंजार का लोग,
मुंडा हाथ रे धर,
देखा भला मायरो वो को,
कुण रे भर।।



नानी बाई की सासु ननंद,

बात न कर,
देखा भला मायरो वो को,
कुण रे भर।।

प्रेषक – ललित धनगर ठीकरी।
8959288036


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।