प्रथम पेज राजस्थानी भजन नदिया रा नीर सांवरा रोक ने बतावा भजन लिरिक्स

नदिया रा नीर सांवरा रोक ने बतावा भजन लिरिक्स

नदिया रा नीर सांवरा रोक ने बतावा,
म्हारे नैना मायलो नीर रुकेला नही रे,
म्हारा बिछडियोला रामजी मिलेला कही रे,
म्हारा बिछडियोला रामजी मिलेला कही रे।।



हाथसु लिखियोड़ा कागज वाच ने वताव,

कर्म री रेखा वाची जावे नाहीं रे,
म्हारा बिछडियोला रामजी मिलेला कही रे,
म्हारा बिछडियोला रामजी मिलेला कही रे।।



बेटा तो जुग में घनेरा देखिया,

लाला श्रवण री होड़ करेला नाही रे,
म्हारा बिछडियोला रामजी मिलेला कही रे,
म्हारा बिछडियोला रामजी मिलेला कही रे।।



भाई तो जुग में सांवरा घणा ही हुया,

भाई भरत री होड़ करेला नाही रे,
म्हारा बिछडियोला रामजी मिलेला कही रे,
म्हारा बिछडियोला रामजी मिलेला कही रे।।



धर्म री बैन ने तू कर ने बताव,

जामन जाई री होड़ करेला नही रे,
म्हारा बिछडियोला रामजी मिलेला कही रे,
म्हारा बिछडियोला रामजी मिलेला कही रे।।



बाया तो जुग में घनेरी देखी,

बाई मीरा री होड़ करेला नाही रे,
म्हारा बिछडियोला रामजी मिलेला कही रे,
म्हारा बिछडियोला रामजी मिलेला कही रे।।



नदिया रा नीर सांवरा रोक ने बतावा,

म्हारे नैना मायलो नीर रुकेला नही रे,
म्हारा बिछडियोला रामजी मिलेला कही रे,
म्हारा बिछडियोला रामजी मिलेला कही रे।।



Singer : Sarita Kharwal

“श्रवण सिंह राजपुरोहित द्वारा प्रेषित”
सम्पर्क : +91 9096558244


2 टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।