प्रथम पेज कृष्ण भजन ना ज्यादा ना कम थोड़ा रोजगार दे दे नै भजन लिरिक्स

ना ज्यादा ना कम थोड़ा रोजगार दे दे नै भजन लिरिक्स

ना ज्यादा ना कम,
थोड़ा रोजगार दे दे नै,
कुणबे का गुजारा होजा,
इसा जुगाड़ करदे नै।।



तेरे खजाने मैं धन,

माया की ना थोड़ सै,
मांगू ना मैं भोत घणा,
थोड़ी सी लोड सै,
इक छोटा सा श्याम धणी,
व्यापार देदे नै,
कुणबें का गुजारा होजा,
इसा जुगाड़ करदे नै।।



अरबो खरबो मांगणिये मैं,

नाम नहीं सै मेरा,
आये गए का मान रखूं,
बस इतना माल भतेरा,
दे मोर छड़ी का झाड़ा,
चमत्कार करदे नै,
कुणबें का गुजारा होजा,
इसा जुगाड़ करदे नै।।



उसकी हार कदे ना होती,

जो इसका हो जावेै,
के बामण के बाणिया,
दर पै सारे शीश झुकावै,
‘राही’ कहै रजनीश की नईया,
पार करदे नै,
कुणबें का गुजारा होजा,
इसा जुगाड़ करदे नै।।



ना ज्यादा ना कम,

थोड़ा रोजगार दे दे नै,
कुणबे का गुजारा होजा,
इसा जुगाड़ करदे नै।।

स्वर – रजनीश शर्मा।
प्रेषक – केशव शर्मा
8708012470


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।