मोरछड़ी लहराई रे रसिया ओ सांवरा भजन लिरिक्स

मोरछड़ी लहराई रे,
रसिया ओ सांवरा,
तेरी बहुत बड़ी सकलाई रे।।

तर्ज – पंख होते तो उड़ आती रे।



मोरछड़ी का जादू निराला,

इसको थामे है खाटूवाला,
लीले चढ़कर दौड़ा ये आए,
सारे संकट पल में मिटाए,
रसिया ओ सांवरा,
तेरी बहुत बड़ी सकलाई रे ॥१॥

मोर-छड़ी लहराई रे,
रसिया ओ सांवरा,
तेरी बहुत बड़ी सकलाई रे।।



‘श्याम बहादुर’ दर्शन को आए,

ताले मंदिर के बंद पाए,
मोरछड़ी से तालो को तोड़ा,
शीश झुका कर बाबा को बोला,
रसिया ओ सांवरा,
तेरी बहुत सकलाई रे ॥२॥

मोर-छड़ी लहराई रे,
रसिया ओ सांवरा,
तेरी बहुत बड़ी सकलाई रे।।



मोरछड़ी की महिमा है भारी,

श्याम धणी को लागे ये प्यारी,
‘हर्ष’ कहे रोतो को हसाएँ,
सारे संकट पल में मिटाए,
रसिया ओ सांवरा,
तेरी बहुत बड़ी सकलाई रे ॥३॥

मोर-छड़ी लहराई रे,
रसिया ओ सांवरा,
तेरी बहुत बड़ी सकलाई रे।।



मोरछड़ी लहराई रे,

रसिया ओ सांवरा,
तेरी बहुत बड़ी सकलाई रे।।

स्वर – मुकेश बागड़ा।
प्रेषक – सम्पूर्ण बड़ोले।

॥ जय श्री श्याम ॥
॥ जय श्री कृष्ण ॥


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

दरजी सिम दे निसान मन्ने खाटू जानो से भजन लिरिक्स

दरजी सिम दे निसान मन्ने खाटू जानो से भजन लिरिक्स

दरजी सिम दे निसान, मन्ने खाटू जानो से, खाटू वालो श्याम धणी से, हेत पुराणों से, दरजी सिम दे निसान, मन्ने खाटू जानो से।। कितनो मीटर कपड़ो ल्याओ, कुणसो ल्याओ…

कईया रूस्या हो कन्हैया मुख से बोलो जी लिरिक्स

कईया रूस्या हो कन्हैया मुख से बोलो जी लिरिक्स

कईया रूस्या हो कन्हैया, मुख से बोलो जी, म्हे खड्या थाने निहारा, आंख्या खोलो जी, कईया रूस्यां हो कन्हैया।। तर्ज – तुम हमारे थे प्रभु जी। भूल म्हासे के हुई…

मेरे बालाजी के द्वार जो भी सच्चे मन से भजन लिरिक्स

मेरे बालाजी के द्वार जो भी सच्चे मन से भजन लिरिक्स

मेरे बालाजी के द्वार, जो भी सच्चे मन से मांगे, उसको देते है बाला, ये है दिलदार, क्यों हो गुम सुम, कहो इनसे जरा तुम, रे भक्तो क्यों हो गुम…

किसने सजाया तुमको मोहन बड़ा सुन्दर लागे भजन लिरिक्स

किसने सजाया तुमको मोहन बड़ा सुन्दर लागे भजन लिरिक्स

किसने सजाया तुमको मोहन, बड़ा सुन्दर लागे, बड़ा सोणा लागे।। ये मोर का मुकुटा, जय जय हो, किसने पहनाया, जय जय हो, आँखों में कजरा, जय जय हो, किसने है…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

3 thoughts on “मोरछड़ी लहराई रे रसिया ओ सांवरा भजन लिरिक्स”

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे