मिन्दर री खिड़की तू तो खोल मीराबाई भजन लिरिक्स

मिन्दर री खिड़की तू तो खोल मीराबाई,
मिन्दर री खिड़की तू तों खोल,
राणो आयो है दर्शन करवाने ओ जी,
अरे राणो आयो है दर्शन करवाने ओ जी।।



अरे नही है नुगरा रो अटे काम राणा,

नही है नुगरा रो अटे काम,
नुगरा मिनका ने दर्शन कोनी मिले ओ जी,
अरे नुगरा मिनका ने दर्शन कोनी मिले ओ जी।।



अरे कुण तो धरीया है माथे हाथ,

मीराबाई कुण तो धरीया है माथे हाथ,
किनरा थे कंठी डोरा बांधीया ओ जी,
अरे किनरा थे कंठी डोरा बांधीया ओ जी।।



अरे रविदास धरीया माथे हाथ राणा,

रविदास धरीया माथे हाथ,
डोरा कंठी वेतो बांधीया ओ जी,
अरे कंठी डोरा वेतो बांधीया ओ जी।।



अरे ओची है जमारा वाली जात मीराबाई,

ओची है जमारा वाली जात,
मुआ ढोरो रा काटे चामडा ओ जी,
अरे मुआ ढोरो रा काटे चामडा ओ जी।।



अरे कोनी मारे ऊंच नीच रो काम राणा,

कोनी मारे जात पात रो काम,
बोना देखेने गुरूसा कर दिया ओ जी,
अरे बोना देखेने गुरूसा कर दिया ओ जी।।



अरे नेनी रे थकी मे भजीया राम मीराबाई,

नेनी थकी मे भजीया राम,
थोडो परचो माने बतावनो ओ जी,
अरे थोडो परचो तो माने बतावनो ओ जी।।



अरे छोटी उमर मे भजीया श्याम,

मीराबाई छोटी उमर मे भजीया श्याम,
थोडो रामय्या ने हेलो मार जो ओ जी,
अरे थोडो रामय्या ने हेलो मार जो ओ जी।।



आतो लेली लेली कंठी माला हाथ मीराबाई,

लेली लेली कंठी माला हाथ,
अरे हवले सावरिया ने हेलो मारीयो ओ जी,
अरे हवले अरे ने हेलो मारीयो ओ जी।।



ओ हो धडा धड इन्द्र गाजे रेण राणा,

धडा धड इन्द्र गाजे रेण,
मेवुडो बरसे रे मुसलाधार मे ओ जी,
अरे मेवुडो बरसे रे मुसलाधार मे ओ जी।।



अरे कोनी भगती कायर वालो काम राणा,

कोनी भगती कायर वालो काम,
शूरा पूरा री भगती खेलनी ओ जी,
अरे शूरा पूरा री भगती खेलनी ओ जी।।



मिन्दर री खिड़की तू तो खोल मीराबाई,

मिन्दर री खिड़की तू तों खोल,
राणो आयो है दर्शन करवाने ओ जी,
अरे राणो आयो है दर्शन करवाने ओ जी।।

गायक – प्रकाश माली जी।
प्रेषक – मनीष सीरवी
9640557818


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें