म्हारो नीले घोड़े वालो बुलावे भक्तो रामदेवजी भजन लिरिक्स

म्हारो नीले घोड़े वालो,
बुलावे भक्तो,
बुलावे भक्तो बुलावे भक्तो,
म्हारो नीले घोडे वालो,
बुलावे भक्तो।।



बाबा निकलंक नेजा धारी,

थारी महिमा सबसे न्यारी,
थारी महिमा सबसे न्यारी,
थारी लीला सबसे न्यारी,
म्हारो नीले घोडे वालो,
बुलावे भक्तो।।



मेलो भादवा रो लागो,

भगता ने कोड लागो,
भगता ने कोड लागो,
भगता ने चाव लागो,
म्हारो नीले घोडे वालो,
बुलावे भक्तो।।



थारे ढ़ोल नगाड़ा बाजे,

जयकारा जोर गा लागे,
जयकारा जोर गा लागे,
थारे हेला जोर गा लागे,
म्हारो नीले घोडे वालो,
बुलावे भक्तो।।



थारी महिमा उदमी गावे,

चरना में शीश नवावे,
चरना में शीश नवावे,
थारा जम्ला भी जगावे,
म्हारो नीले घोडे वालो,
बुलावे भक्तो।।



म्हारो नीले घोड़े वालो,

बुलावे भक्तो,
बुलावे भक्तो बुलावे भक्तो,
म्हारो नीले घोडे वालो,
बुलावे भक्तो।।

गायक – उदमी बाघेला।
8094273572


इस भजन को शेयर करे:

सम्बंधित भजन भी देखें -

जोगिया सत शब्द लो भेवा भजो देव सिर देवा

जोगिया सत शब्द लो भेवा भजो देव सिर देवा

जोगिया सत शब्द लो भेवा, भजो देव सिर देवा।। सुखदेव जैसा कौन था जग में, जनमत छोड़ सब दिया, जोया मुक्ति त्याग में होती, जनक गुरु क्यों किया, सत शब्द…

चार खुट में फिरो भल्याई दिल का भेद नहीं देणा रे

चार खुट में फिरो भल्याई दिल का भेद नहीं देणा रे

चार खुट में फिरो भल्याई, दिल का भेद नहीं देणा रे। दोहा – सतगुरु दिख्या आवता, दि जाजम बिछवाई, फुला कि बरखा हुईं, मारे रहि चमेली छाय। चार खुट में…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

1 thought on “म्हारो नीले घोड़े वालो बुलावे भक्तो रामदेवजी भजन लिरिक्स”

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे