म्हारा खाटु जी का नाथ थे तो रखली म्हारी बात भजन लिरिक्स

म्हारा खाटु जी का नाथ,
थे तो रखली म्हारी बात,
मैं तो खाटु आयो आज,
म्हारी डोरी थारे हाथ।।



खाटु जी का नाथ थारो,

बहुत बडो नाम है,
कर दीजो आज म्हारो,
छोटो सो काम है,
मने दर्शन देदो आज,
सब बिगडीयो म्हारो काज,
मैं तो खाटु आयो आज,
म्हारी डोरी थारे हाथ।।



आँखों से तुमको देखा,

गीत तेरा गाया है,
मन मे तो बाबा बस,
भजन तेरा आया है,
मैं तो भजन सुनादु आज,
अबतो रखलो म्हारी लाज,
मैं तो खाटु आयो आज,
म्हारी डोरी थारे हाथ।।



पहली पहली बार बाबा,

तुमको जो देखा है,
क्या हम देखें उनको,
श्याम ने देखा है,
मेरे मन मे सोचा आज,
बाबा नज़र घुमादे आज,
मैं तो खाटु आयो आज,
म्हारी डोरी थारे हाथ।।



म्हारा खाटु जी का नाथ,

थे तो रखली म्हारी बात,
मैं तो खाटु आयो आज,
म्हारी डोरी थारे हाथ।।

– गायक एवं प्रेषक –
यशवन्त धाकड़
9977027955


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें