मेरा श्याम रंगीला है मेरा मुरलीवाला ये घनश्याम रंगीला है

मेरा श्याम रंगीला है,
मेरा मुरली वाला ये,
घनश्याम रंगीला है।।

तर्ज – ये मेरी अर्जी है।



माथे पे लट काली,

होंठों पे है लाली,
तन पित वसन देखों,
तन पित वसन देखों,
पीताम्बर पीला है,
मेरा श्याम रंगीला हैं,
मेरा मुरली वाला ये,
घनश्याम रंगीला है।।



है नैना कजरारे,

चितवन प्यारे प्यारे,
होंठों की मुरली का,
होंठों की मुरली का,
हर राग रसीला है,
मेरा श्याम रंगीला हैं,
मेरा मुरली वाला ये,
घनश्याम रंगीला है।।



राधे संग रास कभी,

मथुरा में वास कभी,
कभी सारथि अर्जुन के,
कभी सारथि अर्जुन के,
‘रोमी’ कैसी लीला है,
मेरा श्याम रंगीला हैं,
मेरा मुरली वाला ये,
घनश्याम रंगीला है।।



त्रेता के राम है ये,

द्वापर के श्याम भी ये,
कलयुग में लीले का,
कलयुग में लीले का,
असवार सजीला है,
मेरा श्याम रंगीला हैं,
मेरा मुरली वाला ये,
घनश्याम रंगीला है।।



मेरा श्याम रंगीला है,

मेरा मुरली वाला ये,
घनश्याम रंगीला है।।

Singer – Sardar Romi Ji


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें