मेरा कोई न सहारा बिन तेरे ओ शिव शंकर मेरे लिरिक्स

मेरा कोई न सहारा बिन तेरे ओ शिव शंकर मेरे लिरिक्स

मेरा कोई न सहारा बिन तेरे,
ओ शिव शंकर मेरे,
ओ भोले बाबा मेरे,
मैं तो जनम जनम भटका हूँ,
जगा दे अब भाग्य मेरे,
ओ शिव शंकर मेरे।।

तर्ज – मेरी विनती यही है राधा रानी।



छोड़ दुनिया के सारे झूठे नाते,

भोले मैं तेरे द्वार आ गया,
मैं तो दुनिया के दुखो से हूँ हारा,
मैं तो दुनिया के दुखो से हूँ हारा,
मिटा दे सब दुःख मेरे,
ओ शिव शंकर मेरे,
ओ भोले बाबा मेरे।।



मेरे पांवो में पड़े है देखो छाले,

तेरे दर आते आते,
तेरा मंदिर तो मेरा है द्वारा,
तेरा मंदिर तो मेरा है द्वारा,
लगाने आया मैं हूँ डेरे,
ओ शिव शंकर मेरे,
ओ भोले बाबा मेरे।।



तेरे चरणों में जीवन बीते,

यही है विनती मेरी,
मेरी विनती स्वीकार तू करना,
मेरी विनती स्वीकार तू करना,
हे शिव शंकर मेरे,
ओ शिव शंकर मेरे,
ओ भोले बाबा मेरे।।



मेरा कोई न सहारा बिन तेरे,

ओ शिव शंकर मेरे,
ओ भोले बाबा मेरे,
मैं तो जनम जनम भटका हूँ,
जगा दे अब भाग्य मेरे,
ओ शिव शंकर मेरे।।

स्वर – राकेश काला।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें