महफ़िल है श्याम आपकी महफ़िल में आइये ज़रा भजन लिरिक्स

महफ़िल है श्याम आपकी,
महफ़िल में आइये ज़रा,
पलकें बिछाए बैठे हैं,
पलकें बिछाए बैठे हैं,
कुछ तो फरमाइए ज़रा,
मेहफ़िल है श्याम आपकी,
मेहफ़िल में आइये ज़रा।।



यूँ तो हैं लाखों कलियाँ,

फिर भी है सूना ये चमन,
चरणों में लगा खाटू की,
चरणों में लगा खाटू की,
मिटटी तो लाइए ज़रा,
मेहफ़िल है श्याम आपकी,
मेहफ़िल में आइये ज़रा।।



नादानियों पे मेरी,

करते हमेशा पर्दा तुम,
परदे की हो गई आदत,
परदे की हो गई आदत,
पर्दा हटाइये ज़रा,
मेहफ़िल है श्याम आपकी,
मेहफ़िल में आइये ज़रा।।



तोहफे में तुम्हे देते,

अम्बार आंसुओं भरा,
उस पर ये तुमसे कहते हैं,
उस पर ये तुमसे कहते हैं,
अजी मुस्कुराइए ज़रा,
मेहफ़िल है श्याम आपकी,
मेहफ़िल में आइये ज़रा।।



घडी इंतज़ार की अब,

बेसब्र हो रही है,
बैठा है ‘राज’ चरणों में,
बैठा है ‘राज’ चरणों में,
यूँ ना सताइये ज़रा,
मेहफ़िल है श्याम आपकी,
मेहफ़िल में आइये ज़रा।।



महफ़िल है श्याम आपकी,

महफ़िल में आइये ज़रा,
पलकें बिछाए बैठे हैं,
पलकें बिछाए बैठे हैं,
कुछ तो फरमाइए ज़रा,
मेहफ़िल है श्याम आपकी,
मेहफ़िल में आइये ज़रा।।

Singer & Writer – Raj Pareek Ji


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें