मजधार किनारा है जो तेरा सहारा है भजन लिरिक्स

मजधार किनारा है,
जो तेरा सहारा है,
ओ सुनले श्याम मेरे,
तुमको ही पुकारा है,
मजधार किनारा हैं,
जो तेरा सहारा है।।

तर्ज – एक प्यार का नगमा।



उस नाव का क्या डोले,

पतवार तू जिसका है,
वो भंवर ना फस सकती,
साथी तू जिसका है,
तूने थाम ली जो डोरी,
उसे पार लगाता है,
ओ सुनले श्याम मेरे,
तुमको ही पुकारा है,
मजधार किनारा हैं,
जो तेरा सहारा है।।



जिस घर में तेरी पूजा,

हर रोज जो होती है,
उस घर में रोज प्रभु,
खुशियां ही बरसती है,
पूजा में जो शक्ति है,
जहाँ नाम तुम्हारा है,
ओ सुनले श्याम मेरे,
तुमको ही पुकारा है,
मजधार किनारा हैं,
जो तेरा सहारा है।।



खाटू की धोक मेरी,

वो मेरी अर्जी है,
मुझे दर्शन तो देना,
वो तेरी मर्जी है,
तेरा भक्त है ‘गोपाला’,
उसे गले लगा लेना,
ओ सुनले श्याम मेरे,
तुमको ही पुकारा है,
Bhajan Diary Lyrics,
मजधार किनारा हैं,
जो तेरा सहारा है।।



मजधार किनारा है,

जो तेरा सहारा है,
ओ सुनले श्याम मेरे,
तुमको ही पुकारा है,
मजधार किनारा हैं,
जो तेरा सहारा है।।

Singer – Abhi Jindal


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें