मैं तो आया हो थारे दरबार खेतेश्वर भजन लिरिक्स

मैं तो आया हो थारे दरबार,
हो दाता थोरी तो महिमा अपार,
जय हो खेतेश्वर,
थारी जय हो खेतेश्वर।।



पिता शेरसिंहजी पाया,

माता शिण्गारी हुलराया,
ओ लिनो लिनो ओ बर्म्हअवतार,
हो दाता थोरी तो महिमा अपार,
जय हो खेतेश्वर,
थारी जय हो खेतेश्वर।।



भक्ति बालपना मे धारी,

गुरुवर छोडी दुनियादारी,
ओ कंचन काया रो किन्हो उद्धार,
हो दाता थोरी तो महिमा अपार,
जय हो खेतेश्वर,
थारी जय हो खेतेश्वर।।



ओ दाता मुकंद री असवारी,

थाने सौवे अणहद भारी,
ओ जाऊ जाऊ में थापे बलिहार,
हो दाता थोरी तो महिमा अपार,
जय हो खेतेश्वर,
थारी जय हो खेतेश्वर।।



हो चंदो नगर नगर मे किन्हो,

राजपुरोहित हरसे दीन्हो,
ओ दीन्हो ब्रम्हा रो मन्दिर बनाये,
हो दाता थोरी तो महिमा अपार,
जय हो खेतेश्वर,
थारी जय हो खेतेश्वर।।



होधाम आसोतरा मे भारी,

हो आवे दर्शन ने नर नारी,
हो आई पूनम रो हर्ष अपार,
हो दाता थोरी तो महिमा अपार,
जय हो खेतेश्वर,
थारी जय हो खेतेश्वर।।



ओ गुरुवर राज पुरोहित ध्यावे,

हो चरणे तुलसारामजी री आवे,
हो दाता नरपत ने लीजो थे उबार,
हो दाता थोरी तो महिमा अपार,
जय हो खेतेश्वर,
थारी जय हो खेतेश्वर।।



मैं तो आया हो थारे दरबार,

हो दाता थोरी तो महिमा अपार,
जय हो खेतेश्वर,
थारी जय हो खेतेश्वर।।

Singer – HariOm Rajpurohit
9571252528


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

खेता ही खेता में थाको देवरो झुंझार जी भजन लिरिक्स

खेता ही खेता में थाको देवरो झुंझार जी भजन लिरिक्स

खेता ही खेता में थाको, देवरो झुंझारा ओ, बेठा काई आसण ढाल ढाल, म्हारा झुंझार राणा, आयोडा भगता को कारज सार।। कुणी चुनायो थाको देवरो, झुंझारा वो, कुणी लगाई नीज…

थाली भरकर लायी रे खीचड़ो उपर घी की बाटकी भजन लिरिक्स

थाली भरकर लायी रे खीचड़ो उपर घी की बाटकी भजन लिरिक्स

थाली भरकर लायी रे खीचड़ो, उपर घी की बाटकी, जीमो म्हारा श्याम धणी, जिमावै बेटी जाट की।। ये भी देखे – आओ आओ सावरिया बेगा आओ। बापू म्हारो गांव गवेलो,…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे