मैं पतंग हूँ प्यारे तेरे हाथ है मेरी डोर भजन लिरिक्स

मैं पतंग हूँ प्यारे,
तेरे हाथ है मेरी डोर,
मैं हूँ तेरी मर्जी पे,
नचाले जिस ओर,
एक चले ना बाबा,
तेरे आगे मेरा जोर,
मैं हूँ तेरी मर्जी पे,
नचाले जिस ओर,
मै पतंग हूँ प्यारे,
तेरे हाथ है मेरी डोर,
मैं हूँ तेरी मर्जी पे,
नचाले जिस ओर।।

तर्ज – सावन का महीना।



तू श्याम बाबा मेरा,

तू ही मेरी मैया,
थाम के कलाई चलना,
धुप हो या छईया,
देख के तुझको सोऊ,
तेरे भजन से जागे भोर,
मैं हूँ तेरी मर्जी पे,
नचाले जिस ओर।

मै पतंग हूँ प्यारे,
तेरे हाथ है मेरी डोर,
मैं हूँ तेरी मर्जी पे,
नचाले जिस ओर।।



जीत भी कबुल मुझे,

हार भी कबुल है,
प्यार तेरे फूलो से भी,
हार भी कबुल है,
जीत के ना इतराऊ,
हारूँ तो करूँ ना शोर,
मैं हूँ तेरी मर्जी पे,
नचाले जिस ओर।

मै पतंग हूँ प्यारे,
तेरे हाथ है मेरी डोर,
मैं हूँ तेरी मर्जी पे,
नचाले जिस ओर।।



करूँ मैं गुलामी तेरी,

यही मेरा ख्वाब है,
अाजमा के देख ये,
गुलाम लाजवाब है,
तू जो कहे तो नाचू,
तेरे आगे बनके मोर,
तेरी ख़ुशी की खातिर,
बन जाऊ माखन चोर।

मै पतंग हूँ बाबा,
तेरे हाथ है मेरी डोर,
मैं हूँ तेरी मर्जी पे,
नचाले जिस ओर।।



मैं पतंग हूँ प्यारे,

तेरे हाथ है मेरी डोर,
मैं हूँ तेरी मर्जी पे,
नचाले जिस ओर,
एक चले ना बाबा,
तेरे आगे मेरा जोर,
मैं हूँ तेरी मर्जी पे,
नचाले जिस ओर,
मै पतंग हूँ प्यारे,
तेरे हाथ है मेरी डोर,
मैं हूँ तेरी मर्जी पे,
नचाले जिस ओर।।

Singer : Sandeep Bansal


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

साँवरे की सेवा में जो भी रम जाते है भजन लिरिक्स

साँवरे की सेवा में जो भी रम जाते है भजन लिरिक्स

साँवरे की सेवा में, जो भी रम जाते है, बाबा ही संभाले उन्हें, वो फिर दुःख ना पाते है, साँवरे की सेवा में।। तर्ज – आदमी मुसाफिर है। जीवन में…

तेरे नाम से मशहूर जिंदगानी हो गई भजन लिरिक्स

तेरे नाम से मशहूर जिंदगानी हो गई भजन लिरिक्स

तेरे नाम से मशहूर जिंदगानी हो गई, लगन जो तेरी लागि, मैं दीवानी हो गई, दीवानी हाँ दीवानी, दीवानी हो गई, तेरे नाम से मशहूर जिंदगानी हो गई, हुई जग…

मुझपे कृपा करो मेरे माँ अंजनी के लाला भजन लिरिक्स

मुझपे कृपा करो मेरे माँ अंजनी के लाला भजन लिरिक्स

मुझपे कृपा करो मेरे, माँ अंजनी के लाला, भक्ति से भर दो गागर, मेरी भी बजरंग बाला, भक्ति से भर दो गागर, मेरी भी बजरंग बाला।। तर्ज – तुम जो…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

2 thoughts on “मैं पतंग हूँ प्यारे तेरे हाथ है मेरी डोर भजन लिरिक्स”

    • इस प्रतिक्रिया के लिए आपका धन्यवाद।
      कृपया प्ले स्टोर से “भजन डायरी” एप्प डाउनलोड करे।

      Reply

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे