मैं बूटी ढूंढ के लाऊंगा मेरा वादा है लिरिक्स

मैं बूटी ढूंढ के लाऊंगा,
मेरा वादा है,
लखन के प्राण बचाऊंगा,
मेरा वादा है,
मैं बूटी ढूँढ के लाऊंगा,
मेरा वादा है।।

तर्ज – मैं सेहरा बाँध के।



मेरे प्रभु ना हो आधिर,

है ये मुश्किल की घडी,
तुम्हारे नाम से कटती है,
विपदाएं बड़ी,
मैं उड़ के पहुंचूंगा पर्वत पे,
मेरा वादा है,
लखन के प्राण बचाऊंगा,
मेरा वादा है,
मैं बूटी ढूँढ के लाऊंगा,
मेरा वादा है।।



कसम है मुझको प्रभु की,

कुछ ना होने दूंगा,
मैं दास तेरा ये विश्वास,
ना खोने दूंगा,
ले आऊंगा मैं बूटी को,
मेरा वादा है,
लखन के प्राण बचाऊंगा,
मेरा वादा है,
मैं बूटी ढूँढ के लाऊंगा,
मेरा वादा है।।



उठा के लाए जो पर्वत को,

है बजरंगबली,
पिलाई बूटी जो लक्ष्मण को,
तो फिर जान बची,
है ‘विश्वा’ यश तेरा गाएगा,
मेरा वादा है,
लखन के प्राण बचाऊंगा,
मेरा वादा है,
Bhajan Diary Lyrics,
मैं बूटी ढूँढ के लाऊंगा,
मेरा वादा है।।



मैं बूटी ढूंढ के लाऊंगा,

मेरा वादा है,
लखन के प्राण बचाऊंगा,
मेरा वादा है,
मैं बूटी ढूँढ के लाऊंगा,
मेरा वादा है।।

Singer – Vivek Smily


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें