मैं तुमको श्याम बुलाऊँ सादर घर में पधराऊँ भजन लिरिक्स

मैं तुमको श्याम बुलाऊँ,
सादर घर में पधराऊँ,
मैं तुमको श्याम बुलाऊँ
सादर घर में पधराऊँ।।



नैनो से स्वागत गाउँ,

नैनो से स्वागत गाउँ,
सर्वस्व मैं तुझे रिझाऊँ,
सर्वस्व मैं तुझे रिझाऊँ,
अँखियन जल पेर धुलाऊँ,
अँखियन जल पेर धुलाऊँ,
हिए झूले तुम्हे झुलाऊ,
हिए झूले तुम्हे झुलाऊ।।



प्रेमामृत रस नहलाऊं,

प्रेमामृत रस नहलाऊं,
भोजन रस मधुर कराऊँ,
भोजन रस मधुर कराऊँ
प्रिय कोमल सेज सुलाऊँ,
प्रिय कोमल सेज सुलाऊँ,
सुर्कीत अती पवन ढुलाऊँ ।।



कोमल कर चरण दबाऊँ,

कोमल कर चरण दबाऊँ,
प्यारे मैं न्योछावर जाऊँ,
प्यारे मैं न्योछावर जाऊँ,
छीन छीन मन मौज बढ़ाऊँ,
छीन छीन मन मौज बढ़ाऊँ,
नाचूँ गाउँ हरषाऊँ,
नाचूँ गाउँ हरषाऊँ।।



मै तुमको श्याम बुलाऊँ,

सादर घर में पधराऊँ,
मैं तुमको श्याम बुलाऊँ
सादर घर में पधराऊँ।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें