माँ छम छम बाजे पायला चुनडी उडे आकाश जी

माँ छम छम बाजे पायला,
मां छम छम बाजे पायला,
चुनडी उडे आकाश जी,
माँ चुनडी उडे आकाश जी,
सुन्धा री चामुण्डा माता,
सुन्धा री चामुण्डा माता,
बेडो कर दो पार जी ओ जी।।



अरज करूँ सुन्धा मात ने,

मै अरज करूँ सुन्धा मात ने,
सुनो भगता री पुकार जी,
माँ भगता री पुकार जी,
सुन्धा पर्वत बेसनो माँ,
सुन्धा पर्वत बेसनो माँ,
भगता रो विश्वास जी ओ जी।।



नवरात्रि रे मायने माँ,
नवरात्रि रे मायने,
थारे गरबा री रात जी,
थारे गरबा री रात जी,
एकर रमवा आवजो माँ,
एकर रमवा आवजो माँ,
दर्शन देवो आय जी ओ जी।।



आवे दूर देशारा यात्री,

आवे दूर देशारा यात्री,
थारो मेलो भरीजे भरपूर जी,
थारो मेलो भरीजे भरपूर जी,
दुखीया ने सुखीया करो माता,
दुखीया ने सुखीया करो माता,
मेटो मन रा पाप जी ओ जी।।



माँ सिंह चढेने आवजो,

माँ सिंह चढेने आवजो,
थे सुन्धा गढ़ री मात जी,
म्हारी चामुण्डा जी आप जी,
काला गोरा लावजो माँ,
काला गोरा लावजो माँ,
सारंगवा रा नाथ जी ओ जी।।



सुन्देशा अवतानी आवसी,

सुन्देशा अवतानी आवसी,
ए बालोतरा सु आज जी,
बालोतरा सु आज जी,
पैदल आवे आपरे जी,
पैदल आवे आपरे जी,
‘श्याम पालीवाल’ गाई जी ओ जी।।



माँ छम छम बाजे पायला,

मां छम छम बाजे पायला,
चुनडी उडे आकाश जी,
माँ चुनडी उडे आकाश जी,
सुन्धा री चामुण्डा माता,
सुन्धा री चामुण्डा माता,
बेडो कर दो पार जी ओ जी।।

गायक – श्याम पालीवाल जी।
प्रेषक – मनीष सीरवी।
(रायपुर जिला पाली राजस्थान)
9640557818


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें