कठे गयो नखराली थारो घर वालो भजन लिरिक्स

कठे गयो नखराली,
थारो घर वालो।।



प्रीत गनी प्यारो गणों लागे,

तू सूती वो हरदम जागे,
बागा को सैलानी भंवरो,
फूला में रमवा वालो,
ये कठें गयो नखराली,
थारो घर वालो।।



स्वर्ण महल कनक अटारी,

ज्यारी खिड़किया न्यारी न्यारी,
पांच जना की पहरा दारी,
कीकर टुटीओ तालो,
ये कठें गयो नखराली,
थारो घर वालो।।



दौड सकू तो हाथ नही आवे,

भोली नार क्यों भटका खावे,
सुर वीर वाने पकड़ नी पावे,
यो तो छल कर गयो चनगलो,
ये कठें गयो नखराली,
थारो घर वालो।।



तू सोला सिंगार सजाती,

पिऊ के मोह में मदमाती,
कण कण ओंकार निरंजन,
यो चेतन रमवा वालो ये,
कठें गयो नखराली,
थारो घर वालो।।



कठे गयो नखराली,

थारो घर वालो।।

Singer – Kaluram Ji Bikharniya
प्रेषक – नँद लालजी भाट।


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

थे खाटू मे अवतार लियो श्याम भजन लिरिक्स

थे खाटू मे अवतार लियो श्याम भजन लिरिक्स

थे खाटू मे अवतार लियो, हो अहिलवती थारो लाल अठै, हो लिले रो असवार अठै, ओ भक्ता रो प्रतिपाल अठै, ओ बाबो लखदातार अठै।। तर्ज – मायड़ थारो पूत। मे…

लख चौरासी छोड़ बनडो आयो रे देसी भजन

लख चौरासी छोड़ बनडो आयो रे देसी भजन

लख चौरासी छोड़, बनडो आयो रे।। हरि रंग दीनो बनडो परणे, सतगुरु जी के आके शरणे, बांधे मुक्ति मोड़, बनडो उमायो रे, लख चौरासी छोड, बनडो आयो रे।। सत्संग जान…

बलिहारी जाऊं म्हारा सतगुरु ने किया भरम सब दूर भजन लिरिक्स

बलिहारी जाऊं म्हारा सतगुरु ने किया भरम सब दूर भजन लिरिक्स

बलिहारी जाऊं म्हारा सतगुरु ने, किया भरम सब दूर, किया भरम सब दूर मेरा, किया भरम सब दूर, बलिहारी जाऊं मारा सतगुरु ने, किया भरम सब दूर।। प्याला पाया प्रेम…

सोनाला रो धाम सोवनो भेरूजी मापर किरपा किजो

सोनाला रो धाम सोवनो भेरूजी मापर किरपा किजो

सोनाला रो धाम सोवनो, अरे भेरूजी मापर किरपा किजो, माने दर्शन दिजो, अरे खेतलाजी मारी अरज सुनो, अरे भेरूजी मारी अरज सुनो।। ए दूर दूर ती आवे जातरू, दूर दूर…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे