कन्हैया किसको कहेगा तू मैया भजन लिरिक्स

कन्हैया किसको कहेगा तू मैया भजन लिरिक्स

कन्हैया किसको कहेगा तू मैया,
जिसने तुझको जनम दिया की,
जिसने तुझको पाला,
कन्हैया किसको कहेगा तू मैया।।



मानी मानताए और देवी देव पूजे,

पीर सही देवकी ने,
दूध में नहलाने का गोद में खिलाने का,
सुख पाया जशोदा जी ने,
एक ने तुझको जीवन दिया रे,
एक ने जीवन संभाला,
कन्हैया किसको कहेगा तू मैया।।



मरने के डर से भेज दिया घर से,

देवकी ने रे गोकुल में
बिना दिए जनम यशोदा बनी माता,
तुझको छुपाया आँचल मे,
एक ने तन को रूप दिया रे,
एक ने मन को ढाला,
कन्हैया किसको कहेगा तू मैया।।



जन्म दिया हो चाहे पाला हो किसी ने,

भेद ये ममता ना जाने,
कोई भी हो जिसने दिया हो प्यार माँ का,
मन तो माँ उसी को माने,
एक ने तुझको दी है आँखे,
एक ने दिया उजाला,
कन्हैया किसको कहेगा तू मैया।।



कन्हैया किसको कहेगा तू मैया,

जिसने तुझको जनम दिया की,
जिसने तुझको पाला,
कन्हैया किसको कहेगा तू मैया।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें