ज्योत जली रे माँ की आए नवराते भजन लिरिक्स

ज्योत जली रे माँ की आए नवराते,
हुई भीड़ अपार देखो मैया कतार,
बोलो जयकारा जयकारा,
ज्योत जली रे माँ की आए नवराते।।

तर्ज – कौन दिशा में लेके चला रे।



ध्यानु भगत ने महिमा गाई,

मैया से वरदान मिला,
सर को माँ की भेंट चढ़ाया,
भक्तो में सम्मान मिला,
जिसको माँ की ममता मिली रे,
जिसको माँ की ममता मिली रे,
उसको सारा जहान मिला,
पौड़ी पौड़ी चढ़ते चलो,
मैया जी को ध्याते,
पौड़ी पौड़ी चढ़ते चलो,
मैया जी को ध्याते,
हुई भीड़ अपार देखो मैया कतार,
बोलो जयकारा जयकारा,
ज्योत जली रे माँ की आए नवराते।।



श्रीधर ने भी सपने में ही,

माँ का दर्शन पाया रे,
कन्या रूप में आ गई मैया,
खुशियों से हर्षाया रे,
माँ ने सदा ही निज भक्तो पे,
माँ ने सदा ही निज भक्तो पे,
अपना प्यार लुटाया रे,
शेरावाली ख़ुश होती दया बरसाती,
शेरावाली ख़ुश होती दया बरसाती,
हुई भीड़ अपार देखो मैया कतार,
बोलो जयकारा जयकारा,
ज्योत जली रे माँ की आए नवराते।।



‘चोखानी’ ने अर्जी लगाई,

जगदम्बे की चौखट पर,
सुनवाई करने मैया ने,
बिगड़ी बना दी करके मेहर,
‘सरिता’ माँ की भेंटे गाती,
‘सरिता’ माँ की भेंटे गाती,
उसकी पड़ेगी तुम पर नजर,
भक्तो चलो माँ के द्वारे भजन सुनाते,
भक्तो चलो माँ के द्वारे भजन सुनाते,
हुई भीड़ अपार देखो मैया कतार,
बोलो जयकारा जयकारा,
ज्योत जली रे माँ की आए नवराते।।



ज्योत जली रे माँ की आए नवराते,

हुई भीड़ अपार देखो मैया कतार,
बोलो जयकारा जयकारा,
ज्योत जली रे माँ की आए नवराते।।

Singer : Sarita Ojha
Lyrics : Pramod Chokhani


Video Not Available..

इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

हिमगिरि सुता रूप जगदम्बा ब्रह्मचारिणी माते लिरिक्स

हिमगिरि सुता रूप जगदम्बा ब्रह्मचारिणी माते लिरिक्स

हिमगिरि सुता रूप जगदम्बा, ब्रह्मचारिणी माते, दूजी ज्योतिर्मयी शक्ति तुम, भवभयहारिणि माते।। बायें हाथ कमण्डलु शोभित, दायें हाथ जप-माला, जगत-जननि माँ ‘पार्वती’ ने, तपसी-रूप सम्हाला। पति-रूप शिवजी को पाने, बहुत…

खूब सताए तेरी याद हमको खाटू बुला ले दरबार में लिरिक्स

खूब सताए तेरी याद हमको खाटू बुला ले दरबार में लिरिक्स

खूब सताए तेरी याद, हमको खाटू बुला ले, दरबार में, खुब सताए तेरी याद।। तर्ज – तुझको पुकारे मेरा प्यार। बहुत दिनों से, मन में थी आशा, एक अर्ज़ी लगाऊं,…

कारोबार मेरो बालाजी चलावे भजन लिरिक्स

कारोबार मेरो बालाजी चलावे भजन लिरिक्स

कारोबार मेरो बालाजी चलावे, मेरी बैलेंस शीट बालाजी बणावे, जिमे कदे भी घाटों आवे ना, आवे ना, कारोबार मेरो बालाजी चलावें, मेरी बैलेंस शीट बालाजी बणावे।। तर्ज – तेरे होंठो…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

2 thoughts on “ज्योत जली रे माँ की आए नवराते भजन लिरिक्स”

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे