प्रथम पेज प्रकाश माली भजन झूला झूले रे कन्हैया लाल कदम की डाली पे भजन लिरिक्स

झूला झूले रे कन्हैया लाल कदम की डाली पे भजन लिरिक्स

झूला झूले रे कन्हैया लाल,
कदम की डाली पे।

दोहा – कृष्णा रे तू मत जानीयो,
तू बिछडीयो मोहे चैन,
जैसे जल बिन माछली,
वहा तडप रही दिन रेण।



डाली पे डाली पे कान्हा
डाली पे,
डाली पे
डाली पे डाली पे कान्हा,
झूला झूले रे,
झूला झूले रे कन्हैयो लाल,
कदम की डाली पे,
झूला झूले रे कन्हैयो लाल,
कदम की डाली पे।।



ब्रह्मा भी झूले संग विष्णु भी झूले,

ब्रह्मा भी झूले संग विष्णु भी झूले,
झूला झूले रे झूला झूले रे,
सरस्वती मात कदम की डाली पे,
झूला झूले रे सरस्वती मात,
कदम डाली पे।।



राम भी झूले संग लक्ष्मण भी झूले,

राम भी झूले संग लक्ष्मण भी झूले,
झूला झूले रे झूला झूले रे,
सीता मात कदम की डाली पे,
झूला झूले रे सीता मात,
कदम की डाली पे।।



शंकर भी झूले संग विष्णु भी झूले,

शंकर भी झूले संग विष्णु भी झूले,
झूला झूले रे झूला झूले रे,
पार्वती मात कदम की डाली पे,
झूला झूले रे पार्वती मात,
कदम की डाली पे।।



राधा भी झूले संग रूक्मण भी झूले,

राधा भी झूले संग रूक्मण भी झूले,
झूला झूलावे झूला झूलावे,
मीराबाई आप कदम की डाली पे,
झूला झूलावे मीराबाई आप,
कदम की डाली पे।।



डाली पे डाली पे कान्हा डाली पे,
डाली पे डाली पे डाली पे कान्हा,
झूला झूले रे,

झूला झूले रे कन्हैया लाल,
कदम की डाली पे,
झूला झूले रे कन्हैयो लाल,
कदम की डाली पे।।

गायक – प्रकाश माली जी।
प्रेषक – मनीष सीरवी
9640557818


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।