झीणी झीणी उड़े रे गुलाल चारभुजा रा मंदिर में लिरिक्स

झीणी झीणी उड़े रे गुलाल,
चारभुजा रा मंदिर में,
झीणी झीणी उडे रे गुलाल,
छोगाला रा मन्दिर में।।



राम रेवाड़ी निकले प्यारी,

जिण में नाचे नर और नारी,
छोगाला ने रिझाय,
चारभुजा रा मंदिर में,
झीणी झीणी उडे रे गुलाल,
चारभुजा रा मन्दिर में।।



चारभुजा री छवि है प्यारी,

छोगाला री मूरत प्यारी,
दर्शन पावे थारा नर और नारी,
देख्या ही बण आय,
चारभुजा रा मंदिर में,
झीणी झीणी उडे रे गुलाल,
चारभुजा रा मन्दिर में।।



रंग गुलाल उड़ावे भारी,
शरणे आवे नर और नारी,
सावरिया ने रिझाय,
चारभुजा रा मंदिर में,
झीणी झीणी उडे रे गुलाल,
चारभुजा रा मन्दिर में।।



आगे आगे चाले बैंड बाजा,

छोगालो बैठो मूरत सजा,
मन मारो गणो हरषाय,
चारभुजा रा मंदिर में,
झीणी झीणी उडे रे गुलाल,
चारभुजा रा मन्दिर में।।



ईण बिन्दोली में कूण कुणी नाचे,

भेरुखेड़ा रा सब हिलमिल नाचे,
नरेश भजन सुणाय,
चारभुजा रा मंदिर में,
झीणी झीणी उडे रे गुलाल,
चारभुजा रा मन्दिर में।।



झीणी झीणी उड़े रे गुलाल,

चारभुजा रा मंदिर में,
झीणी झीणी उडे रे गुलाल,
छोगाला रा मन्दिर में।।

गायक – नरेश प्रजापति।
प्रेषक – रोशन कुमावत।
भेरुखेड़ा, 8770943301


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

माने लागो घणेरो कोड रे चालो चालो बाबा रे देवरे

माने लागो घणेरो कोड रे चालो चालो बाबा रे देवरे

माने लागो घणेरो कोड रे, चालो चालो बाबा रे देवरे।। दोहा – गाँव रूनीचे मेलो भरीजे, बाबा रे दरबार, दूर दूर रा यात्री बाबा, आवे नर ने नार। माने लागो…

लख चौरासी रा छोटा टेशन मोटा मिनक जमारा है लिरिक्स

लख चौरासी रा छोटा टेशन मोटा मिनक जमारा है लिरिक्स

लख चौरासी रा छोटा टेशन, दोहा – राम नाम मे आलसी, भोजन मे हुशियार, तुलसी ऐसे जीव को, बार बार धिक्कार। लख चौरासी रा छोटा टेशन, मोटा मिनक जमारा है,…

नाडोल वाली आशापुरा ने जाऊँ वारी वारी ओ

नाडोल वाली आशापुरा ने जाऊँ वारी वारी ओ

नाडोल वाली आशापुरा ने, जाऊँ वारी वारी ओ, आशापुरा रा मिन्दरिया में, आशापुरा रा मिन्दरिया मे, ध्वजा फरूके भारी ओ, नाडोंल वाली आशापुरा ने, जाऊँ वारी वारी ओ।। नाडोल वाली…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे