जीत जायेंगे हम डर की क्या बात है हर कदम साँवरा जब मेरे साथ है

जीत जायेंगे हम डर की क्या बात है हर कदम साँवरा जब मेरे साथ है

जीत जायेंगे हम,
डर की क्या बात है,
हर कदम साँवरा,
जब मेरे साथ है,
हर कदम साँवरा,
जब मेरे साथ है।।

तर्ज – जीत जायेंगे हम।



जीवन की बाजी का,

बाजीगर मेरा सांवरा,
हारने देगा ना मुझको,
दिल में ये विश्वास भरा,
इनके रहते चिंता मैं करूँ,
मुमकीन ही नहीं,
ये जो बोले दिन तो दिन,
ये जो बोले दिन तो दिन,
ये जो बोले रात है,
हर कदम साँवरा,
जब मेरे साथ है,
हर कदम साँवरा,
जब मेरे साथ है।।



दिल की वसीयत लिख दी है,

मेने इनके नाम पर,
एक भरोसा मुझको है,
केवल मेरे श्याम पर,
इसपे कब्ज़ा करले सांवरे,
फरियाद मेरी,
छीन ले ना कोई,
छीन ले ना कोई,
ऐसे हालात है,
हर कदम साँवरा,
जब मेरे साथ है,
हर कदम साँवरा,
जब मेरे साथ है।।



सेवादारी करते करते,

इतना भरोसा हो ही गया,
मैं तेरा और तू मेरा,
जन्मो का रिश्ता हो ही गया,
टूटेगा ना बंधन प्यार का,
मेरे श्याम से,
धुप में छाव में,
धुप में छाव में,
सर पे दो हाथ है,
हर कदम साँवरा,
जब मेरे साथ है,
हर कदम साँवरा,
जब मेरे साथ है।।



तेरे रहते और किसी को,

मैंने कभी पुकारा नहीं,
भूल से भी भूलूँ तुझको,
श्याम को ये गवारा नहीं,
मेरी रूह में समाया तू ही तू,
अब मैं क्या करूँ,
तू भी जानता है ये,
तू भी जानता है ये,
सच्चे जज्बात है,
हर कदम साँवरा,
जब मेरे साथ है,
हर कदम साँवरा,
जब मेरे साथ है।।



जीत जायेंगे हम,

डर की क्या बात है,
हर कदम साँवरा,
जब मेरे साथ है,
हर कदम साँवरा,
जब मेरे साथ है।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें