जनम लियो कृष्ण कन्हाई भजन लिरिक्स

बृज में बाजे बधाई,
जनम लियो कृष्ण कन्हाई,
कृष्ण कन्हाई कृष्ण कन्हाई,
बृज में खुशियाँ छायी,
जनम लियों कृष्ण कन्हाई।।



गोपी ग्वाले दौड़े आए,

नन्द बाबा को खबर सुनाए,
नन्द बाबा ने खोले ख़जाने,
हीरे मोती लगे लुटाने,
सब मिल देवे बधाई,
जनम लियों कृष्ण कन्हाई,
बृज में बाजे बधाई,
जनम लियों कृष्ण कन्हाई।।



ए री सखी सब मंगल गावो,

कान्हा को काला टीका लगाओ,
नज़र ना लागे मेरे ललना को,
मात यशोदा झुलाए पलना को,
बाँटे खूब मिठाई,
जनम लियों कृष्ण कन्हाई,
बृज में बाजे बधाई,
जनम लियों कृष्ण कन्हाई।।



ढोलक ढोल मजीरे बाजे,

गोपी ग्वाल सब मिलजुल नाचे,
नाचे मोर पपीहा बोले,
बृज वासी मस्ती में डोले,
बृज में धूम मचाई,
जनम लियों कृष्ण कन्हाई,
बृज में बाजे बधाई,
जनम लियों कृष्ण कन्हाई।।



बृज में बाजे बधाई,

जनम लियो कृष्ण कन्हाई,
कृष्ण कन्हाई कृष्ण कन्हाई,
बृज में खुशियाँ छायी,
जनम लियों कृष्ण कन्हाई।।

Singer – Manoj Kumar

जन्माष्टमी के सभी भजन यहाँ ⇨ देखें।


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें